कोरोना वायरस अभी पूरी तरह से खत्म भी नहीं हुआ है कि मंकीपॉक्स तेजी से फैलने लगा है. हालांकि, भारत में इसका अभी तक कोई मामला सामने नहीं आया है. मंकीपॉक्स एक संक्रामक बीमारी है, जो संक्रमित व्यक्ति के कनेक्शन में आने से हो सकती है. विश्व स्वास्थ्य संगठन की मानें, तो मंकीपॉक्स एक-दूसरे को छूने या फिर ओरल सेक्स करने से भी फैल सकता है.

आज इस लेख में आप मंकीपॉक्स और सेक्स के संबंध के बारे में विस्तार से जानेंगे -

(और पढ़ें - मंकीपॉक्स के लिए टीका)

मंकीपॉक्स क्या है?

मंकीपॉक्स आमतौर पर मध्य और पश्चिमी देशों में अधिक देखने को मिलता है, लेकिन यह अन्य देशों में भी तेजी से अपने पैर पसार रहा है. यह बीमारी मंकीपॉक्स वायरस की वजह से होती है. बुखार, तेज सिरदर्दपीठ में दर्दमांसपेशियों में दर्द व लिम्फ नोड्स में सूजन आदि मंकीपॉक्स के आम लक्षण माने जाते हैं. इनके अलावा, मंकीपॉक्स वायरस के संपर्क में आने से चेहरे, हाथ और पैरों पर फफोले वाले दाने हो सकते हैं. मुंह, जननांग और आंखें भी मंकीवॉक्स वायरस की चपेट में आ सकती हैं.

(और पढ़ें - यौन संबंध में सहमति)

  1. क्या सेक्स करने से मंकीपॉक्स होता है?
  2. सेक्स के दौरान मंकीपॉक्स से कैसे बचें?
  3. सार्वजनिक जगह पर मंकीपॉक्स से कैसे बचें?
  4. मंकीपॉक्स के लक्षण नजर आने पर क्या करें?
  5. सारांश
क्या सेक्स करने से मंकीपॉक्स फैलता है? के डॉक्टर

मंकीपॉक्स वाले लोग संक्रामक होते हैं. मंकीपॉक्स स्किन टू स्किन टच होने से फैल सकता है. जब संक्रमित व्यक्ति के साथ ओरल सेक्स या शारीरिक संबंध बनाया जाता है, तो मंकीपॉक्स वायरस एक पार्टनर से दूसरे पार्टनर को हो सकता है. मंकीपॉक्स के रैशेज जननांगों और मुंह में हो सकते हैं, ऐसा यौन संबंध बनाने की वजह से हो सकता है.

(और पढ़ें - रोज सेक्स करने से क्या होता है?)

अगर किसी को मंकीपॉक्स है, तो सबसे अच्छा तरीका यही है कि वो मौखिक, गुदा व योनि किसी भी तरह के सेक्स से दूरी बनाए रखे. यह बीमारी चूमने व स्पर्श करने से फैलती है. साथ ही तौलिया, सेक्स टॉयज व टूथब्रश जैसी चीजें भी साझा न करें. अगर कोई फिर भी सेक्स करना चाहता है, तो वायरस फैलने की आशंका को कम करने के लिए निम्नलिखित तरीकों पर विचार कर सकता है -

  • बिना व्यक्तिगत संपर्क में आए वर्चुअल सेक्स किया जा सकता है.
  • एक दूसरे को छुए बिना और बिना किसी दाने या घाव को छुए कम से कम 6 फीट की दूरी पर एक साथ हस्तमैथुन किया जा सकता है.
  • अगर व्यक्ति की त्वचा पर घाव है, तो उसे पट्टी या कपड़े से कवर कर लें, ताकि वायरस दूसरे व्यक्ति तक न पहुंचे. जितना संभव हो सके एक-दूसरे को टच न करें.
  • इस दौरान दोनों को मेडिकल मास्क जरूर पहनना चाहिए.
  • संक्रमित व्यक्ति को घाव ढकने के लिए डिस्पोजेबल दस्ताने जरूर पहनने चाहिए, ताकि दूसरा व्यक्ति घाव के साथ सीधे संपर्क में आने से बच सके.
  • सेक्स करने के बाद अपने हाथ, सेक्स टॉय, कपड़ों व बिस्तरे आदि को धोना न भूलें.

(और पढ़ें - सुरक्षित सेक्स कैसे करें)

किसी भी वायरस के फैलने की संभावना सार्वजनिक जगहों पर अधिक होती है. इसलिए पब्लिक प्लेस में खुद को अधिक सुरक्षित रखने की जरूरत होती है -

  • सार्वजनिक जगहों पर किसी भी वस्तु या सामान को छूने से बचें.
  • किसी भी सतह को पहले साफ करें, इसके बाद ही छुएं या फिर उस जगह पर बैठें. 
  • पब्लिक प्लेस में हमेशा मास्क लगाकर रखें. 
  • भीड़-भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें. 
  • लोगों के अधिक संपर्क में न आएं और थोड़ी दूरी बनाकर रहें.
  • हाथों को नियमित रूप से साबुन और पानी से साफ करें या फिर अल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर का यूज करें.

(और पढ़ें - सेक्स न करने से होने वाले नुकसान)

अगर किसी में मंकीपॉक्स के लक्षण नजर आते हैं, तो निम्न बातों को ध्यान में रखना जरूरी है -

  • लक्षण महसूस होने पर सबसे पहले खुद को आइसोलेशन में रखें. 
  • घर के दूसरे सदस्यों के संपर्क में आने से बचें.
  • मंकीपॉक्स के लक्षण नजर आने के बाद सेक्स करने से बचें. 
  • मंकीपॉक्स के लक्षणों के बाद अपने कपड़े, चादर व तौलिया आदि निजी सामान को दूसरे के साथ शेयर न करें.
  • अगर त्वचा पर दाने या घाव हो गए हैं, तो इनकी नियमित सफाई करें. इनसे निकलने वाले तरल पदार्थ को साफ करें, ताकि दूसरे लोग इससे संक्रमित न हो.

(और पढ़ें - सेक्स के प्रति अरुचि)

मंकीपॉक्स किसी भी उम्र व लिंग के व्यक्ति को हो सकता है. त्वचा पर दाने निकलना, सिरदर्द, लिम्फ नोड्स में सूजन इसके सबसे आम लक्षण माने जाते हैं. अगर किसी भी व्यक्ति को ये लक्षण नजर आए, तो खुद को तुरंत आइसोलेट कर लें. इसके बाद डॉक्टर से संपर्क कर आगे का इलाज करवाएं. इसके अलावा, किसी को भी ऐसे व्यक्ति के साथ यौन संबंध बनाने से बचना चाहिए, जिनमें मंकीपॉक्स के लक्षण नजर आ रहे हों.

(और पढ़ें - महिला कामोत्तेजना बढ़ाने के तरीके)

Dr. Gaurav Kulkarni

Dr. Gaurav Kulkarni

सेक्सोलोजी
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Pradeep T.Goud

Dr. Pradeep T.Goud

सेक्सोलोजी
32 वर्षों का अनुभव

Dr. Dipesh Choubisa

Dr. Dipesh Choubisa

सेक्सोलोजी
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Sanghvi

Dr. Sanghvi

सेक्सोलोजी
43 वर्षों का अनुभव

सम्बंधित लेख

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ