चिरौंजी को भला कौन नहीं जानता है। यह हर घर में एक सूखे मेवे की तरह प्रयोग की जाती है। इसका प्रयोग भारतीय पकवानों, मिठाइयों और खीर इत्यादि में किया जाता है।

चिरौंजी का वृक्ष अधिकतर सूखे और पर्वतीय प्रदेशों में पाया जाता है। चिरौंजी की खेती दक्षिण भारत, हिमाचल प्रदेश, मध्यप्रदेश और छोटा नागपुर आदि जगहों पर की जाती है।

चिरौंजी स्वास्थ्य और सौंदर्य दोनों के लिहाज से बहुत अच्छी मानी जाती है। इसका लेप लगाने से चेहरे के मुहाँसे, फुंसी और अन्य चर्म रोग दूर होते हैं। चिरौंजी को खाने से ताक़त मिलती है और पेट में गैस नहीं बनती है। चिरौंजी में बहुत से विटामिन सी, विटामिन B1, विटामिन B2 और नियासिन पाए जाते हैं। चिरौंजी के सभी भाग - बीज या नट्स, गुठली, फल, जड़, तेल और गम आंदि पारंपरिक दवाओं में इस्तेमाल होते आए हैं। 

(और पढ़ें – पेट में गैस के घरेलू उपचार)

आइए जानते हैं चिरौंजी से होने वाले फायदे, जिससे आप अच्छी सेहत बना सकते हैं और स्वस्थ जीवन जी सकते हैं।

  1. चिरौंजी के फायदे - Chironji Ke Fayde Hindi Me
  2. चिरौंजी के नुकसान - Chironji Side Effects in Hindi

चिरौंजी के फायदे चेहरे के लिए - Chironji for Face in Hindi

चिरौंजी को गुलाब जल के साथ पीस कर चेहरे पर लेप लगाएं। फिर जब यह सूख जाए तब इसे मसल कर धो लें। इससे चेहरा चिकना, सुंदर और चमकदार बन जाएगा। चिरौंजी आपके स्किन को चमकदार बनाती है। इसके पैक को सप्ताह में 3 बार लगाने से आपको तुरंत असर दिखाई देने लगेगा और आपकी स्किन की खोई हुई रंगत वापिस मिल जाएगी।चिरौंजी पाउडर को शहद और जायफल के साथ मिला कर मिक्स कर लीजिए। इसे 6-7 मिनट तक अपने फेस पर लगा रहने दें। ऐसा करने से आपके चेहरे के पोर्ज़ दूर होंगे और आप एक मुलायम और चिकनी स्किन पा सकेंगे।

100 ग्राम चिरौंजी गिरी पाउडर और 15 ग्राम बोरेक्स लें। गुलाब जल में दोनों सामग्री मिलाएं। इसका प्रयोग एक्जिमा को रोकने के लिए किया जाता है। यह 4 से 7 दिनों के भीतर इस समस्या को दूर कर देता है।

(और पढ़ें – नमक सिर्फ़ खाने के लिए ही नहीं, आपके चेहरे के लिए भी है ज़रूरी, जानिए कैसे?)

झुर्रियों और पिंपल्स को रोकने के लिए Sprowt Collagen Powder का उपयोग करें -
Collagen Powder
₹699  ₹899  22% छूट
खरीदें

चिरौंजी के लाभ से मुहांसों को दूर करें - Chironji for Acne in Hindi

संतरे के छिलके और चिरौंजी को दूध के साथ पीसकर मुहांसों पर लेप लगाएं। जब लेप सूख जाए तब चेहरे को धो लें। एक हफ्ते तक प्रयोग के बाद भी असर ना दिखाई दें, तो लाभ होने तक इसका प्रयोग जारी रखें।

(और पढ़ें – टूथपेस्ट के फायदे)

यहां समान श्रेणी की दवाएं देखें

चिरौंजी का तेल है बालों के लिए उपयोगी - Chironji Oil for Hair in Hindi

चिरौंजी का तेल बालों को काला करने के लिए उपयोगी है। ये आपके बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद है। यदि आप भी अपने बालों को काला करना चाहते हैं तो रोज़ इसका सेवन करें। 

(और पढ़ें – सफेद बालों को काला करने के उपाय)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Kesh Art Hair Oil बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने 1 लाख से अधिक लोगों को बालों से जुड़ी कई समस्याओं (बालों का झड़ना, सफेद बाल और डैंड्रफ) के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Bhringraj Hair Oil
₹599  ₹850  29% छूट
खरीदें

चिरौंजी खाने के फायदे मधुमेह के लिए - Chironji for Diabetes in Hindi

एक रिसर्च में चिरौंजी के फायदों को ध्यान में रखते हुए कहा गया है कि ये शुगर की समस्या को दूर करता है और ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करता है। 

(और पढ़ें – मधुमेह से पीड़ित लोगों के लिए यह दस जड़ी बूटियाँ हैं)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Madhurodh Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को डायबिटीज के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Sugar Tablet
₹899  ₹999  10% छूट
खरीदें

चिरौंजी के गुण कब्ज दूर करें - Chironji for Constipation in Hindi

चिरौंजी के सेवन से कब्ज की शिकायत दूर होती है। ये आपके शरीर की अपच की समस्या को दूर कर करता है और आपको इस परेशानी से निजात दिलाता है।

(और पढ़ें – कब्ज के रामबाण इलाज

चिरौंजी में 59 प्रतिशत वसा होता है, लेकिन यह एक स्वस्थ वसा है। उच्च वसा सामग्री के कारण, आप इसे प्रतिदिन 20 ग्राम से अधिक नहीं ले सकते हैं। यह पाचन में भारी है जिससे आपका पेट 6 से 12 घंटे के लिए काफी भरा महसूस हो सकता है। इस कारण से, यह वजन कम करने के लिए इस्तेमाल की जा सकती है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए क्या करना चाहिए)

क्या आप भी मोटापे से परेशान है लाख कोशिशों के बाद भी वजन काम नहीं कर पा रहे है तो आज ही myUpchar आयुर्वेद मेदारोध वेट लॉस जूस को इस्तेमाल करना शुरू करे और अपने वजन को नियंत्रित करे

 

चिरौंजी का तेल दस्त में लाभदायक - Chironji Oil for Diarrhea in Hindi

5-10 ग्राम चिरौंजी को पीसकर दूध के साथ लेने से खूनी दस्त में लाभ होता है। चिरौंजी का तेल दस्त और पाचन समस्या को दूर करने में बहुत मददगार होता है। इसको नियमित रूप से खाने से मल त्याग समय पर होने लगता है। 

(और पढ़ें – कढ़ी पत्ता के फायदे दस्त में लाभदायक)

चिरौंजी के फायदे करें साँस की परेशानी दूर - Chironji for Respiratory System in Hindi

चिरौंजी तेल की कुछ बूँदो के साथ भाप लेने से साँस की परेशानी दूर हो जाती है। इससे ठंड से भी तत्काल राहत मिलती है। जब भी आपको खाँसी हों तो चिरौंजी का काढ़ा बनाकर सुबह-शाम पीने से लाभ मिलता है। ये पौष्टिक भी होती है और इसे पौष्टिकता के लिहाज से बादाम की जगह पर इस्तेमाल कर सकते हैं। 

(और पढ़ें – ब्राह्मी का सेवन)

चिरौंजी के गुण सूजन को दूर करें - Chironji Oil for Swelling in Hindi

इसके बीजों से निकाला हुआ तेल सूजन और संक्रमण वाली जगह पर लगाने से बहुत फायदा मिलता है। इससे स्किन संक्रमण की समस्या से छुटकारा मिलता है।

चिरौंजी खाने के फायदे रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाएं - Chironji for Immunity in Hindi

इसको नियमित रूप से खाने से इम्यूनिटी का स्तर बढ़ता है और शरीर में आई हुई कमज़ोरी दूर होती है। इसको बच्चे के जन्म के बाद माँ को खिलाने से भी बहुत फायदा मिलता है। चिरौंजी के नट्स थकान को कम करते हैं और शारीरिक क्षमता बढ़ाते हैं। खिलाड़ी अपने प्रदर्शन में सुधार के लिए चिरौंजी के नट्स का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें – रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ायें)

चिरौंजी के अन्य फायदे - Other Health Benefits of Chironji in Hindi

चिरौंजी के अन्य फायदे इस प्रकार हैं -

  • चिरौंजी को पारंपरिक रूप से दूध के साथ लेनी की सलाह दी जाती है। इससे शुक्राणुओं की संख्या बढ़ती है और बांझपन और नपुंसकता के मामलों में पुरुषों का प्रदर्शन भी बेहतर होता है। (और पढ़ें – बांझपन का घरेलू इलाज)
  • चिरौंजी की गुठली के साथ दूध नसों के दर्द के कारण हो रहे सिरदर्द और बेहोशी से पीड़ित रोगियों को दिन में दो बार पीने की सलाह दी जाती है। (और पढ़ें – सिर दर्द का देसी इलाज​)
  • दूध के साथ चिरौंजी के बीज लेने से अत्यधिक प्यास बुझाने में मदद मिलती है।
  • 20 ग्राम चिरौंजी की गुठली चबाने से पित्ती (Urticaria) का इलाज होता है। यह उपाय एक से 3 महीने के समय में पित्ती का इलाज कर सकता है।
myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Prajnas Fertility Booster बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख पुरुष और महिला बांझपन की समस्या में सुझाया है, जिससे उनको अच्छे परिणाम देखने को मिले हैं।
Fertility Booster
₹899  ₹999  10% छूट
खरीदें

चिरौंजी के बीज का आम दुष्प्रभाव भूख की कमी है। यदि आपका पाचन तंत्र कमजोर है, तो आप चिरौंजी के बीज का प्रभाव अनुभव कर सकते हैं। हालांकि, चिरौंजी का तेल पाचन बढ़ा देता है। - चिरौंजी की गुठली के साथ एक अन्य दुष्प्रभाव कब्ज है, लेकिन चिरौंजी के कच्चे फल कब्ज में सहायक होते हैं। - चिरौंजी के तेल के साथ अत्यधिक पेशाब की संभावना होती है। जो रोगी चिरौंजी के तेल का आंतरिक रूप से (मौखिक रूप से) उपभोग करते हैं, रात के समय अक्सर पेशाब का अनुभव कर सकते हैं।


उत्पाद या दवाइयाँ जिनमें चिरौंजी है

ऐप पर पढ़ें