• हिं
सर्जरी की जानकारी के लिए फॉर्म भरें।
हम 48 घंटों के भीतर आपसे संपर्क करेंगे।

पैनक्रिएटेक्टॉमी एक विशेष सर्जरी प्रोसीजर है, जिसकी मदद से अग्न्याशय को पूरी तरह से या उसके कुछ हिस्से को निकाल दिया जाता है। अग्न्याशय शरीर के प्रमुख अंदरूनी अंगों में से एक है, जो इन्सुलिन बनाता है। पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी को अग्न्याशय से संबंधी बीमारियों का इलाज करने के लिए किया जाता है जैसे जिसमें अग्न्याशय में कैंसर भी शामिल है। पैनक्रिएटेक्टॉमी को कई अलग-अलग सर्जरी प्रोसीजर की मदद से किया जा सकता है, जिसमें व्हिप्पल प्रोसीजर, डिस्टल पैनक्रिएटेक्टॉमी और टोटल पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी शामिल हैं।

आवश्यकता पड़ने पर इस सर्जरी में अग्न्याशय के साथ-साथ तिल्ली, पित्ताशय और पेट के कुछ हिस्से को भी निकाला जा सकता है। सर्जरी से पहले आपके कुछ विशेष टेस्ट किए जाते हैं, जिनकी मदद से यह सुनिश्चित किया जाता है कि आप सर्जरी के लिए पूरी तरह से फिट हैं य नहीं। यदि आप सिगरेट आदि पीते हैं, तो सर्जरी से पहले ही उन्हें छोड़ने को कहा जा सकता है। यह सर्जरी आपको जनरल एनेस्थीसिया देकर की जाती है, जिस दौरान आपको दर्द महसूस नहीं होता है। सर्जरी के बाद आपको पूरी तरह से आराम करने को कहा जाता है और साथ ही साथ प्रचुर मात्रा में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट वाले खाद्य पदार्थ लेने को कहा जाता है। आपको अधिक वसा वाले खाद्य पदार्थ न लेने को कहा जाता है। छुट्टी मिलने के कुछ हफ्तों बाद आपको फिर से अस्पताल बुलाया जा सकता है।

(और पढ़ें - पेशाब में प्रोटीन के लक्षण)

  1. पैनक्रिएटेक्टॉमी क्या है - What is Pancreatectomy in Hindi
  2. पैनक्रिएटेक्टॉमी क्यों की जाती है - Why is Pancreatectomy done in Hindi
  3. पैनक्रिएटेक्टॉमी से पहले - Befoe Pancreatectomy in Hindi
  4. पैनक्रिएटेक्टॉमी के दौरान - During Pancreatectomy in Hindi
  5. पैनक्रिएटेक्टॉमी के बाद - After Pancreatectomy in Hindi
  6. पैनक्रिएटेक्टॉमी की जटिलताएं - Complications of Pancreatectomy in Hindi
पैनक्रिएटेक्टॉमी के डॉक्टर

पैनक्रिएटेक्टॉमी एक विशेष सर्जरी प्रोसीजर है, जिसमें अग्न्याशय को पूरी तरह से या उसके कुछ हिस्से को शरीर से निकाल दिया जाता है। अग्न्याशय शरीर का एक आवश्यक अंग है, जो आंत व पेट के पास स्थित होता है। अग्न्याशय तीन अलग-अलग हिस्सो से मिलकर बना है, जिन्हें वाइडर हेड, मिडिल और टेल के नाम से जाना जाता है। अग्न्याशय के प्रमुख कार्य निम्न हैं -

  • यह शरीर के लिए कई प्रकार का एंजाइम बनाता है, जो भोजन पचाने में मदद करते हैं
  • यह ग्लकागॉन और इन्सुलिन जैसे हार्मोन बनाता है, जो शरीर में ग्लूकोज को सामान्य स्तर तक बनाए रखता है।

पैनक्रिएटेक्टॉमी को अग्न्याशय से संबंधी कई समस्याओं का इलाज करने के लिए किया जाता है, जिसमें अग्न्याशय का कैंसर भी शामिल है।

(और पढ़ें - हार्मोन असंतुलन के लक्षण)

यदि आपको निम्न लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी की जा सकती है -

कैंसर -
इसमें अग्न्याशय से जुड़े कई प्रकार के कैंसर शामिल हैं जैसे -

  • एसिनल सेल ट्यूमर
  • एम्पुलरी कैंसर
  • एडीनोकार्सिनोमा
  • पित्त नली के निचले हिस्से में कैंसर होना
  • ड्यूडेनल कैंसर
  • आइलेट सेल ट्यूमर
  • लिम्फोमा
  • सिस्टाडीनोकार्सीनोमा
  • नियोप्लाज्म
  • पैपीलरी सिस्टिक नियोप्लाज्म
  • सिस्टाडीनोमा

अग्न्याशय कैंसर -
जिसके लक्षणों में निम्न शामिल हो सकते हैं -

  • दस्त
  • पीलिया (त्वचा का रंग पीला पड़ना)
  • शरीर का वजन कम होना
  • गहरे रंग का पेशाब और ग्रे रंग का मल आना
  • डायबिटीज की शुरूआत होना

पैनक्रीटाइटिस -
संक्रमण के कारण अग्न्याशय के ऊतक नष्ट होने लगना, जिसके लक्षणों में निम्न शामिल हो सकते हैं -

  • दस्त
  • पेट में दर्द
  • शरीर का वजन कम होना
  • खाने व पीने में दिक्कत होना

पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी को हाइपरइन्सुलिनेमिक हाइपोग्लाइसीमिया जैसी स्थितियों में भी किया जा सकता है। हाइपरइन्सुलिनेमिक हाइपोग्लाइसीमिया में शुगर स्तर कम होने के बावजूद भी असामान्य रूप से इन्सुलिन स्रावित होता रहता है।

किसे नहीं करवानी चाहिए?

जिन लोगों को मेटास्टेटिक कैंसर (कैंसर की 4 या उससे भी ऊपर की स्टेज) या ट्यूमर हो गया है, जिसे जिन्हें सर्जरी की मदद से निकाला नहीं जा सकता है, उनके लिए डॉक्टर पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी से मना कर सकते हैं।

(और पढ़ें - कैंसर में क्या खाएं)

ऑपरेशन से कुछ दिन पहले आपको अस्पताल बुलाया जाता है और इस दौरान आपके स्वास्थ्य संबंधी कुछ सवाल पूछे जाते हैं और साथ ही साथ आपका शारीरिक परीक्षण भी किया जाता है। इसकी मदद से यह पता लगाया जाता है कि पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी के लिए आप कितने स्वस्थ है। इसके अलावा सर्जरी से पहले कुछ अन्य टेस्ट भी किए जा सकते हैं -

सर्जरी से पहले डॉक्टर आपको कुछ विशेष सुझाव देते हैं, जिनका पालन करना जरूरी होता है। इनमें निम्न शामिल हैं -

  • यदि आप शराब पीते हैं, तो सर्जरी से लगभग दो हफ्ते पहले ही उसे पूरी तरह से बंद कर दें
  • यदि धूम्रपान करते हैं, तो उसे भी सर्जरी से पहले ही छोड़ दें ताकि सर्जरी के बाद घावों को ठीक होने में कोई दिक्कत न हो
  • यदि आपको हाल ही में कोई बीमारी हो गई है जैसे जुकाम, फ्लू, बुखार या हर्पीस आदि, तो ऑपरेशन से पहले ही डॉक्टर को इस बारे में जानकारी दें
  • सर्जरी से लगभग 8 घंटे पहले ही आपको कुछ भी खाने या पीने से मना किया जा सकता है, ताकि सर्जरी के दौरान आपको उल्टी व मतली की शिकायत न हो।

वर्तमान या हाल ही में ली जा रही दवाएं -

  • यदि आपने हाल ही में कोई दवा खाई है या फिर आप वर्तमान में कोई दवा खा रहे हैं तो उनके बारे मे डॉक्टर को बता दें। ऐसा इसलिए क्योंकि डॉक्टर ऑपरेशन से पहले कुछ दवाओं का सेवन बंद करवा देते हैं, जिनमें मुख्य रूप से रक्त पतला करने वाली दवाएं जैसे एस्पिरिन, ईबुप्रोफेन और वार्फेरिन शामिल हैं।
  • जिन दवाओं को आप सर्जरी तक ले सकते हैं, डॉक्टर आपको उनके बारे में बता देंगे। यदि आपको सर्जरी वाले दिन भी कोई दवा लेनी है, तो उसे कम से कम पानी के साथ लेने की सलाह दी जाती है।
  • इसके अलावा डॉक्टर आपको सर्जरी से जुड़े लाभ व जोखिमों के बारे में बता देते हैं और फिर आपको सहमति पत्र दिया जाता है। इस सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करके आप सर्जन को सर्जरी करने की अनुमति दे देते हैं। हालांकि, पत्र पर हस्ताक्षर करने से पहले उसे अच्छे से पढ़ लेना चाहिए।

(और पढ़ें - मतली को रोकने के घरेलू उपाय)

जब आप ऑपरेशन के लिए अस्पताल पहुंच जाते हैं, तो सर्जरी की करने की तैयारियां शुरू कर दी जाती हैं, जो कि इस प्रकार हैं -

  • सबसे पहले आपके यूरीनरी ब्लैडर में कैथीटर डाला जाता है, जिसकी मदद से सर्जरी के दौरान पेशाब एक थैली में जमा होता रहता है।
  • नाक में एक विशेष ट्यूब लगा दी जाती है, जिसे नैसोगैस्ट्रिक ट्यूब कहा जाता है। यह ट्यूब सांस लेने में मदद करती है।
  • आपको एनेस्थीसिया का इंजेक्शन लगाया जाता है, जिससे आपको सर्जरी के दौरान दर्द महसूस नहीं होता है।

पैनक्रिएटेक्टॉमी को किसी सर्जिकल प्रोसीजर के माध्यम से किया जाना है, वह आमतौर पर अग्न्याशय के अंदर कैंसर या ट्यूमर के आकार व प्रकार पर निर्भर करता है। पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी को कैसे किया जाता है -

  • व्हिप्पल प्रोसीजर -
    यह सर्जिकल प्रोसीजर अग्न्याशय में कैंसर का इलाज करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी है। इस प्रोसीजर में छोटी आंत के पहले हिस्से के साथ-साथ पैनक्रिएटिक हेड को भी निकाल दिया जाता है। इस दौरान पित्त नलिका के उस हिस्से को भी निकाल दिया जाता है, जिसमें पित्तरस होते हैं। अग्न्याशय, पेट और पित्त नली के शेष भाग बची हुई छोटी आंत से जुड़ा होता है। सर्जरी द्वारा किया गया यह बदलाव एंजाइम और हार्मोन को स्रावित करने में मदद करता है।
     
  • डिस्टल पैनक्रिएटेक्टॉमी -
    इस सर्जरी प्रोसीजर में अग्न्याशय के बीच वाले और अंतिम हिस्से को हटा दिया जाता है। इसके साथ-साथ डायाफ्राम के बाएं हिस्से, स्प्लीन और आंत और बाईं किडनी के हिस्से को भी आवश्यकता पड़ने पर निकाला जा सकता है।
     
  • टोटल पैनक्रिएटेक्टॉमी -
    इस सर्जरी प्रोसीजर की मदद से पूरी अग्न्याशय को ही निकाल दिया जाता है। इसके साथ-साथ तिल्ली, पित्ताशय, छोटी आंत के हिस्से, पित नलिकाओं, पेट का कुछ हिस्सा और अग्न्याशय के आसपास को लिम्फ नोड को भी आवश्यकता पड़ने पर निकाला जा सकता है।

पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी को पूरा होने में कितना समय लगता है, यह सर्जरी के प्रकार पर निर्भर करता है। उदाहरण के लिए व्हिप्पल प्रोसीजर को पूरा होने में लगभग चार से सात घंटों का समय लग सकता है।

ऑपरेशन के बाद

ऑपरेशन प्रोसीजर पूरी होने के बाद आपको रिकवरी वार्ड में शिफ्ट कर दिया जाता है। सर्जरी के बाद आपको 10 दिन तक अस्पताल में रहना पड़ सकता है।

जब तक आप अस्पताल में भर्ती रहते हैं, नर्स आपके सभी शारीरिक संकेतों पर नजर रखती है जैसे ब्लड प्रेशर, ऑक्सीजन लेवल और हार्ट रेट आदि।

कुछ समय तक नैसोगैस्ट्रिक ट्यूब को लगाकर रखा जा सकता है। घाव के अंदर भी एक विशेष ट्यूब लगा कर रखी जाती है, जो घाव के अंदर बनने वाले द्रव को निकालती रहती है। ये सभी ट्यूब आमतौर पर तीन से पांच दिन बाद हटा दी जाती हैं।

कुछ दिन तक आपको हल्का व पतला खाना दिया जाता है और फिर धीरे-धीरे ठोस खाद्य पदार्थ देना शुरू कर दिया जाता है। एक हफ्ते बाद आप सामान्य रूप से खा पी सकते हैं।

(और पढ़ें - संतुलित भोजन किसे कहते हैं)

पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी होने के बाद जब आपको घर के लिए छुट्टी मिल जाती है, तो इस दौरान नर्स आपको बाद में देखभाल करने से संबंधित जानकारी देगी। ऑपरेशन के बाद आपको आमतौर पर निम्न देखभाल करने की सलाह दी जाती है -

घाव की देखभाल -

  • घाव को किसी भी प्रकार की खरोंच लगने से बचाने की सलाह दी जाएगी और साथ ही उसे गीला भी न होने दें।
  • यदि चीरे को टांके, स्टेपल या ग्लू की मदद से बंद किया गया है, तो उन्हें डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही ध्यान में रखें। नहाने से पहले पट्टी उतार लें और फिर कपड़े के साथ गीलापन सुखाकर फिर से पट्टी लगा लें।
  • यदि टेप की मदद से से घाव को बंद किया गया है, तो नहाने से पहले घाव को किसी पॉलिथीन से ढक लें, ऐसा आपको कम से कम पांच दिनों तक करने की सलाह दी जाती है।
  • जब तक डॉक्टर आपको सलाह न दें, तब तक स्विमिंग पूल या बाथटब में न नहाएं।

शारीरिक गतिविधि -

  • आपको अपनी सामान्य दिनचर्या के काम फिर से शुरू करने में छह से आठ हफ्तों का समय लगता है।
  • सर्जरी के कुछ दिन बाद डॉक्टर आपको थोड़ा बहुत चलने और कुछ सीढ़ियां चलने की अनुमति दे सकते हैं।
  • जब तक डॉक्टर आपको अनुमति न दें, तब तक कोई भी अधिक मेहनत वाली एक्सरसाइज करने की सलाह नहीं दी जाती है।
  • डॉक्टर की अनुमति के बिना अधिक वजन भी न उठाएं क्योंकि ऐसा करने पर टांकों पर जोर पड़ सकता है।

आहार -

  • सर्जरी के बाद कुछ दिन तक आपको भोजन पचाने में दिक्कत हो सकती है, जिसके लिए आपको हल्के व पतले खाद्य पदार्थों का सेवन करने की सलाह दी जाती है।
  • आपको ऐसे खाद्य पदार्थ अपने आहार में शामिल करने की सलाह दी जाती है, जिनमें प्रचुर मात्रा में प्रोटीन व कार्बोहाइड्रेट्स और कम मात्रा में फैट हो।
  • आपको एक बार पूरा भोजन करने की बजाय उसे थोड़ा-थोड़ा करके कई बार खाने की सलाह दी जाती है, ताकि आपकी पाचन प्रणाली पर जोर न पड़े।

दवाएं -

  • सर्जरी के बाद डॉक्टर आपको जो दवाएं देते हैं, उन्हें निर्देशानुसार ही लेते रहना चाहिए। डॉक्टर आपको एस्पिरिन, नेपरोक्सेन और इबुप्रोफेन जैसी दवाओं को कुछ समय तक बंद करवा सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि ये दवाएं रक्त को पतला करती हैं और परिणामस्वरूप घाव में रक्तस्राव बढ़ जाता है।
  • सर्जरी से पूरी तरह से रिकवर होने में आपको तीन से चार महीनों का समय लग सकता है, जो आपके स्वास्थ्य और की गई सर्जरी के प्रकार पर निर्भर करता है।

पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी से होने वाले लाभ

जिन लोगों को अग्न्याशय में कैंसर था और पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी की गई है, तो उससे निम्न लाभ मिल सकते हैं -

  • जीवन प्रत्याशा में वृद्धि
  • कैंसर के फैलाव को रोकने के साथ-साथ लक्षणों से छुटकारा

डॉक्टर को कब दिखाएं?

यदि आपको सर्जरी के बाद निम्न लक्षण देखने को मिलते हैं, तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें -

  • तेज बुखार
  • घाव में भरा हुआ द्रव निकलना बंद हो जाना
  • ग्रे रंग का मल आना
  • त्वचा व आंखों का रंग पीला पड़ जाना
  • खाने व पीने में दिक्कत होना
  • मतली, दस्त और कब्ज पूरी होना
  • सांस लेने में दिक्कत होना
  • दर्दनिवारक दवाएं लेने के बाद भी दर्द रहना
  • घाव से रंगीन (जैसे लाल व सफेद रंग का) द्रव निकलना
  • घाव में सूजन व लालिमा बढ़ जाना

(और पढ़ें - सांस की बीमारी के लक्षण)

पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी और एनेस्थीसिया से होने वाले जोखिमों में निम्न शामिल हैं -

सर्जरी से होने वाले जोखिमों में निम्न शामिल हैं -

  • शरीर का वजन कम होना
  • डायबिटीज (यदि शरीर पर्याप्त मात्रा में इन्सुलिन न बना पाए)
  • पेट साफ करने में दिक्कत होना
  • अग्न्याशय, पेट, आंत और पित्त नलिकाओं से द्रव का रिसाव होना

(और पढ़ें - पेट साफ करने के तरीके)

Dr. Raghu D K

Dr. Raghu D K

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
14 वर्षों का अनुभव

Dr. Porselvi Rajin

Dr. Porselvi Rajin

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
16 वर्षों का अनुभव

Dr Devaraja R

Dr Devaraja R

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
7 वर्षों का अनुभव

Dr. Vishal Garg

Dr. Vishal Garg

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
14 वर्षों का अनुभव

संदर्भ

  1. UCSF Department of Surgery [internet]. University of California San Francisco. California. U.S.A.; Pancreatectomy
  2. Pucci MJ, Kennedy EP, Yeo CJ. Pancreatic cancer: clinical aspects, assessment, and management. In: Jarnagin WR, ed. Blumgart's Surgery of the Liver, Biliary Tract, and Pancreas. 6th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2017:chap 62.
  3. Shires GT, Wilfong LS. Pancreatic cancer, cystic pancreatic neoplasms, and other nonendocrine pancreatic tumors. In: Feldman M, Friedman LS, Brandt LJ, eds. Sleisenger and Fordtran's Gastrointestinal and Liver Disease: Pathophysiology/Diagnosis/Management. 10th ed. Philadelphia, PA: Elsevier Saunders; 2016:chap 60.
  4. Jesus-Acosta AD, Narang A, Mauro L, Herman J, Jaffee EM, Laheru DA. Carcinoma of the pancreas. In: Niederhuber JE, Armitage JO, Kastan MB, Doroshow JH, Tepper JE, eds. Abeloff's Clinical Oncology. 6th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2020:chap 78.
  5. National Health Service [internet]. UK; Pancreatic Cancer
  6. Fogel EL, Sherman S. Diseases of the gallbladder and bile ducts. In: Goldman L, Schafer AI, eds. Goldman-Cecil Medicine. 25th ed. Philadelphia, PA: Elsevier Saunders; 2016:chap 155.
  7. Jackson PG, Evans SRT. Biliary system. In: Townsend CM Jr, Beauchamp RD, Evers BM, Mattox KL, eds. Sabiston Textbook of Surgery. 20th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2017:chap 54.
  8. UPMC Children's Hospital of Pittsburgh [Internet]. Pennsylvania. US; What Does the Spleen Do?
  9. Johns Hopkins Medicine [Internet]. The Johns Hopkins University, The Johns Hopkins Hospital, and Johns Hopkins Health System; Adrenal Glands
  10. Nessa Azizun, Rahman Sofia A., and Hussain Khalid. Hyperinsulinemic Hypoglycemia – The Molecular Mechanisms. Front Endocrinol (Lausanne). 2016; 7: 29. PMID: 27065949.
  11. Diabetes.co.uk [Internet]. Coventry. UK; Insulin
  12. Gumbs AA, Rodriguez Rivera AM, Milone L, Hoffman JP. Laparoscopic pancreatoduodenectomy: a review of 285 published cases. Ann Surg Oncol. 2011 May. 18 (5):1335-41. PMID: 21207166.
  13. Limongelli P, Belli A, Russo G, Cioffi L, D'Agostino A, Fantini C, et al. Laparoscopic and open surgical treatment of left-sided pancreatic lesions: clinical outcomes and cost-effectiveness analysis. Surg Endosc. 2012 Jul. 26 (7):1830-6.
  14. Butturini G, Partelli S, Crippa S, Malleo G, Rossini R, Casetti L, et al. Perioperative and long-term results after left pancreatectomy: a single-institution, non-randomized, comparative study between open and laparoscopic approach. Surg Endosc. 2011 Sep. 25 (9):2871-8. PMID: 21424200.
  15. Zureikat AH, Nguyen KT, Bartlett DL, Zeh HJ, Moser AJ. Robotic-assisted major pancreatic resection and reconstruction. Arch Surg. 2011 Mar. 146 (3):256-61. PMID: 21079111.
  16. Oxford University Hospitals [internet]: NHS Foundation Trust. National Health Service. U.K.; About pancreatic surgery
  17. University Hospitals Plymouth NHS Trust [Internet]. National Health Service. UK; Surgical treatment of the pancreas
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ