• हिं
सर्जरी की जानकारी के लिए फॉर्म भरें।
हम 48 घंटों के भीतर आपसे संपर्क करेंगे।

लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी या लेंस को बदलने की सर्जरी में व्यक्ति की आंख के प्राकृतिक लेंस को आर्टिफीशियल लेंस से बदला जाता है। यह सर्जरी दृष्टि को ठीक करने के लिए और चश्मे व कॉन्टेक्ट लेंस की जरूरत को कम करने के लिए की जाती है। आप किस कारण से यह ऑपरेशन करवा रहे हैं उसके अनुसार डॉक्टर आपके लिए लेंस का चुनाव करेंगे। उदाहरण के लिए यदि आप चश्मे पर अपनी निर्भरता को कम करने के लिए करवा रहे हैं तो डॉक्टर आपको मोनोफोकल लेंस की सलाह दे सकते हैं। वैसे ही मल्टीफोकल लेंस को लगाकर पास की नजर को ठीक किया जा सकता है। सर्जरी से पहले आंख के डॉक्टर आपकी आंखों का परीक्षण करेंगे और यह जानेंगे कि आपकी आंखों के लिए सही लेंस कौन से हैं। सर्जरी के लिए आपको लोकल एनेस्थीसिया दिया जाएगा। प्रक्रिया के बाद नर्स आपकी आंखों पर एक शील्ड लगाएंगी ताकि आपकी आंखें सुरक्षित रहें। डिस्चार्ज हो जाने के बाद डॉक्टर द्वारा बतायी गई बातें ध्यान में रखें।

  1. लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी से पहले - Lens replacement surgery se pehle
  2. लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी कैसे होती है - Lens replacement surgery kaise hoti hai
  3. लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी के बाद देखभाल - Lens replacement surgery ke baad dekhbhal
  4. लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी के खतरे - Lens replacement surgery ke khatre
  5. लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी क्या है - Lens replacement surgery kya hai
  6. लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी क्यों की जाती है - Lens replacement surgery kyon ki jati hai

इस सर्जरी से पहले निम्न तैयारी की आवश्यकता होती है -

  • नेत्र रोग विशेषज्ञ आपको कुछ नेत्र परीक्षण कराने के लिए कहेंगे। आपकी आंख को अल्ट्रासाउंड या लेजर स्कैनिंग डिवाइस का उपयोग करके मापा जाएगा, यह देखने के लिए कि कौन सा इंट्राओक्यूलर लेंस आपके लिए उपयुक्त है
  • यदि आप किसी भी तरह की दवा, विटामिन, हर्ब्स, दवाएं आदि ले रहे हैं तो इनके बारे में डॉक्टर को बता दें। यदि आप किसी आई ड्राप का प्रयोग कर रहे हैं तो भी डॉक्टर को बता दें। डॉक्टर आपको उन्हें लेने से संबंधी निर्देश दे सकते हैं
  • आपके डॉक्टर सर्जरी से पहले कुछ आई ड्रॉप्स लिखेंगे। आप निर्देशानुसार उनका उपयोग करें
  • आमतौर पर, भूखा रहना आवश्यक नहीं है। हालांकि, डॉक्टर से यह पूछ लें कि भोजन व पेय में किन चीज़ों से परहेज की आवश्यकता है 
  • प्रक्रिया से पहले कुछ हफ्तों तक धूम्रपान से बचना चाहिए क्योंकि यह घाव भरने में बाधा उत्पन्न करता है
  • आपको किसी व्यक्ति, किसी मित्र या रिश्तेदार के साथ की आवश्यकता होगी, जो आपको अस्पताल ला सकता है और प्रक्रिया के बाद आपको घर वापस भी ले जा सकता है।
  • आपको सर्जरी के लिए अपनी मंजूरी देने के लिए एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा जाएगा
  • सर्जरी के बाद अपनी आंखों को रोशनी से बचाने के लिए आपको धूप के चश्मे (रैप-अराउंड स्टाइल) की आवश्यकता हो सकती है

सर्जरी निम्न तरह से की जाएगी -

  • मेडिकल टीम आपको एक कुर्सी पर बैठने के लिए कहेगी। इसके बाद आपकी आंख में एनेस्थीसिया डाला जाएगा, ताकि प्रक्रिया के दौरान आपकी आंख बहुत ज्यादा न हिले
  • कुछ देर के बाद आपको ऑपरेशन रूम में ले जाया जाएगा
  • सर्जन आपके चेहरे को ड्रेप से ढक देंगे (ताकि सर्जरी के स्थान पर संक्रमण न हो) जिसमें केवल आपकी आंख का भाग खुला होगा। इसके बाद स्प्रिंग क्लिप का प्रयोग कर के आपकी आंखों को खुला रखेंगे। साथ ही आपको सर्जरी के दौरान हल्की पलक हिलाने की अनुमति होगी 
  • पुतली को अलग करने के लिए आई ड्राप का प्रयोग किया जाएगा 
  • इसके बाद जिस स्थान पर कॉर्निया और स्क्लेरा मिलते हैं, वहां एक एंट्री पोर्ट बनाएंगे 
  • इस पोर्ट के जरिये आपके प्राकृतिक लेंस को ढक कर रखने वाले कैप्सूल में एक चीरा लगाया जाएगा
  • इसके बाद सर्जन उच्च आवेग वाली वाइब्रेटिंग प्रोब का प्रयोग करके प्राकृतिक लेंस को छोटे टुकड़ों में तोड़ेंगे। फिर इन टुकड़ों को बाहर निकाल लिया जाएगा 
  • इसके बाद सर्जन बहुत ही ध्यानपूर्वक आर्टिफीशियल लेंस को प्राकृतिक लेंस के स्थान पर लगाएंगे 
  • अंत में आपकी आंख को साफ़ किया जाएगा और इसे वापस एंटीबायोटिक्स और द्रव से भर दिया जाएगा

एक आंख का लेंस बदलने के लिए 20 मिनट का समय लगता है। सर्जरी के ही दिन आप घर जा सकेंगे। ऑपरेशन के बाद आपकी आंखों पर आई शील्ड लगी हो सकती है। हॉस्पिटल से निकलने से पहले डॉक्टर आपको कुछ आई ड्राप डालने की सलाह देंगे और फॉलो अप अपॉइंटमेंट की तारीख भी बता देंगे।

एक बार घर आ जाने के बाद आपको निम्न बातों का ध्यान रखना होगा -

  • सर्जन आपको एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीबायोटिक आई ड्राप दे सकते हैं ताकि आपको कोई संक्रमण न हो और आप जल्दी ठीक हो सकें
  • आपको सर्जरी के दो दिन बाद तक हल्का सा सरदर्द या बेचैनी हो सकती है। इसे कम करने के लिए दर्दनिवारक ले सकते हैं
  • आपकी आंख में पानी आ सकता है या आंखें लाल हो सकती हैं
  • एक सप्ताह तक सोते समय आपको आई शील्ड का उपयोग करना चाहिए
  • प्रक्रिया के तुरंत बाद आपको टेलीविजन देखने, पढ़ने या कंप्यूटर का उपयोग करने की अनुमति दी जा सकती है
  • आप सर्जरी के बाद आराम से नहा सकते हैं। हालांकि, आपको अपनी आंखों के अंदर साबुन या शैम्पू को जाने से बचाने के लिए अपने बालों को धोत समय एक आई शील्ड पहनना चाहिए
  • सर्जरी के बाद एक सप्ताह तक तैरने न जाएं
  • आप सर्जरी के अगले दिन से ही जॉगिंग या जिम जाना शुरू कर सकते हैं
  • प्रक्रिया के बाद कम से कम एक महीने के लिए मेकअप न करें
  • आप ड्राइविंग कब शुरू कर सकते हैं उस बारे में अपने डॉक्टर से पूछ सकते हैं
  • अपनी आंखों को दिन में कम से कम दो बार या अपने डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार साफ़ करें

इस सर्जरी में निम्न जोखिम हो सकते हैं -

  • दिखाई न देना
  • मोतियाबिंद
  • रेटिना का अलग हो जाना
  • रतौंधी (आंख में द्रव का निर्माण और आंख में सूजन, जिससे दृष्टि की विकृति होती है)
  • सबकोन्जिक्टिवल (आपकी आंखों के सफेद हिस्से के नीचे) या सुप्राकोरॉयडल (आंख के सफेद हिस्से के पीछे) क्षेत्रों में रक्तस्राव

लेंस को बदलने की सर्जरी में आंख के प्राकृतिक लेंस को बदलकर आर्टिफीशियल इंट्राऑक्युलर लेंस लगाया जाता है। इस प्रक्रिया को क्लियर लेंस एक्सट्रैक्शन या रिफ्रेक्टिव लेंस एक्सचेंज के नाम से भी जाना जाता है। 

आंखों के डॉक्टर आपकी दृष्टि की खराबी को ठीक करने के लिए यह सर्जरी करेंगे, जिससे आपको ठीक तरह से देखने में मदद मिलेगी। 

लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी मोतियाबिंद के ऑपरेशन की तरह होती है। इसमें केवल फर्क इतना है कि मोतियाबिंद की सर्जरी में धब्बे वाले लेंस को हटाया जाता है लेकिन लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी चश्मों और कांटेक्ट लेंस की जरूरत को कम करने के लिए की जाती है।

लेंस रिप्लेसमेंट के कारण पर निर्भर करते हुए दो तरह के लेंस का प्रयोग किया जा सकता है -

  • मोनोफोकल इंट्राओक्युलर लेंस - इस लेंस से दूर की नजर को ठीक किया जाता है, जिससे गाड़ी चलाते समय चश्मा नहीं या कम पहनना पड़ता है
  • मल्टीफोकल इंट्राओक्युलर लेंस - इस तरह के लेंस से कई सारे कार्यों में चश्मों की जरूरत कम हो जाती है जैसे कम्प्यूटर का प्रयोग करते हुए या पढ़ते हुए

यदि आपको निम्न में से कोई भी स्थिति है तो डॉक्टर यह सर्जरी करेंगे -

  • पास का साफ़-साफ़ न दिखना (हाइपरओपिया)
  • निकट दृष्टि दोष (मायोपिया)
  • प्रेसबायोपिया (यह 40 वर्ष की आयु के बाद होता है जब आंख का लेंस बहुत लचीला हो जाता है। इसमें आस-पास की वस्तुओं पर ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होती है)
  • दृष्टिवैषम्य (एक स्थिति जिसमें आंख का कॉर्निया घुमावदार होता है, जिससे धुंधली दृष्टि होती है)

पचास वर्ष से अधिक उम्र के लोग जिनके चश्मे का नंबर लेजर सर्जरी के लिहाज से ज्यादा होता है उन्हें भी लेंस रिप्लेसमेंट या लेंस प्रतिस्थापन सर्जरी करवाने की सलाह दी जाती है।

संदर्भ

  1. University of Iowa Hospitals and Clinics [Internet]. Iowa. US; What is a refractive error?
  2. The Royal College of Ophthalmologists [Internet]. London. UK; Refractive lens exchange
  3. National Eye Institute [Internet]. National Institute of Health. US Department of Health and Human Services; At a glance: Cataracts
  4. American Academy of Ophthalmology [Internet]. California. US; Cataract in the Adult Eye PPP - 2016
  5. Salmon JF. Lens. In: Salmon JF, ed. Kanski's Clinical Ophthalmology. 9th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2020:chap 10.
  6. Tipperman R. Cataracts. In: Gault JA, Vander JF, eds. Ophthalmology Secrets in Color. 4th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2016:chap 21.
  7. Smith SF, Duell DJ, Martin BC, Aebersold M, Gonzalez L. Perioperative care. In: Smith SF, Duell DJ, Martin BC, Gonzalez L, Aebersold M, eds. Clinical Nursing Skills: Basic to Advanced Skills. 9th ed. New York, NY: Pearson; 2016:chap 26.
  8. Neumayer L, Ghalyaie N. Principles of preoperative and operative surgery. In: Townsend CM Jr, Beauchamp RD, Evers BM, Mattox KL, eds. Sabiston Textbook of Surgery: The Biological Basis of Modern Surgical Practice. 20th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2017:chap 10.
  9. Vancouver Island Health Authority [Internet]. British Columbia. Canada; Before, During and After your Cataract Surgery
  10. Guy's and St. Thomas' Hospital: NHS Foundation Trust [Internet]. National Health Service. UK; Your guide to cataract surgery
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ