• हिं
सर्जरी की जानकारी के लिए फॉर्म भरें।
हम 48 घंटों के भीतर आपसे संपर्क करेंगे।

एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर एक विशेष सर्जरी प्रोसीजर है, जिसकी मदद से क्षतिग्रस्त हुए या कटे हुए एक्सटेंसर टेंडन को फिर से जोड़ा जाता है। एक्सटेंसर टेंडन हाथ में मौजूद होता है और आपको उंगली हिलाने और चीजें पकड़ने में मदद करता है। एक्सटेंसर टेंडन में क्षति होने पर उंगलियां ठीक से मुड़ नहीं पाती हैं और साथ ही साथ हाथ में सूजनदर्द होने लगता है। सर्जरी से पहले डॉक्टर आपकी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में जाना जाता है और साथ ही एक्स रे व अन्य कई टेस्ट किए जाते हैं। इस सर्जरी को लोकल एनेस्थीसिया का इंजेक्शन लगाकर किया जाता है और इसे करने में लगभग आधे घंटे का समय लगता है।

ऑपरेशन के बाद कुछ हफ्तों तक सर्जरी वाले हाथ पर स्प्लिंट लगाकर रखा जाता है, ताकि हाथ अनावश्यक रूप से हिल न पाए। सर्जरी वाले हिस्से में कुछ समय तक दर्द व सूजन की शिकायत रह सकती है, जिसके के लिए आपको दवाएं लेने और बर्फ की सिकाई करने की सलाह दी जाती है। सर्जरी के कुछ दिन बाद आपको फिर से अस्पताल बुलाया जाता है और टांके खोल दिए जाते हैं व साथ ही यह भी जांच की जाती है कि आप सामान्य रूप से स्वस्थ हो रहे हैं या नहीं। यदि आपको दवाएं लेने के बाद भी बुखार, दर्द व सूजन जैसी समस्याएं होने लगें तो डॉक्टर से बात करें।

(और पढ़ें - तेज बुखार होने पर क्या करें)

  1. एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर की जटिलताएं
  2. एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर क्या है
  3. एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर क्यों की जाती है
  4. एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर किसे नहीं करवानी चाहिए
  5. एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर से पहले
  6. के दौरान
  7. एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर के बाद
एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर के डॉक्टर

एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर सर्जरी से निम्न जटिलताएं होने का खतरा बढ़ जाता है -

  • शरीर के किसी हिस्से में रक्त के थक्के बन जाना (विशेष रूप से टांगों में)
  • अत्यधिक रक्तस्राव होना
  • किसी दवा से रिएक्शन होना
  • प्रभावित जोड़ पूरी तरह से काम न कर पाना
  • संक्रमण
  • टेंडन फट जाना
  • टेंडन आसपास के ऊतकों से चिपक जाना
  • ठंड सहन न कर पाना
  • लंबे समय तक सूजन रहना
  • उंगलियों में अकड़न हो जाना
  • कॉम्पलेक्स रिजनल पेन सिंड्रोम (ट्रामा के बाद होने वाला दर्द)

(और पढ़ें - टेंडन में चोट के लक्षण)

एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर प्रोसीजर एक विशेष सर्जरी प्रोसीर है और जैसा कि इसके नाम से पता चलता है इसकी मदद से हाथ में मौजूद एक्सटेंसर टेंडन की रिपेयर की जाती है। टेंडन विशेष संरचनाएं होती हैं, जो हड्डी को मांसपेशियों से जोड़ती हैं। जब कोई मांसपेशी सिकुड़ती है, तो उससे जुड़ा टेंडन हड्डी को भी खींचने लगता है। ठीक उसी प्रकार एक्सटेंसर टेंडन बाहों के अगले हिस्से और हाथों में मौजूद होता है। यह टेंडन हाथों की उंगलियों व अंगूठे को मजबूती प्रदान करता है।

एक्सटेंसर टेंडन ऐसी जगह होता है, जहां पर चोट लगने का खतरा काफी अधिक होता है और छोटा सा कट लगने पर भी ये क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। अगर किसी भी कारण से हाथ में मौजूद एक्सटेंसर टेंडन क्षतिग्रस्त हो जाता है, तो आप अपना हाथ पूरी तरह से खोल नहीं पाते हैं।

(और पढ़ें - चोट लगने पर प्राथमिक उपचार)

यह सर्जरी एक्स्टेंसर टेंडन में किसी प्रकार की क्षति का कट के इलाज के लिए की जाती है। एक्सटेंसर टेंडन में होने वाली क्षति जिनमें आमतौर पर सर्जिकल उपचार की आवश्यकता होती है निम्न शामिल हैं -

  • मैलेट फिंगर (उंगली का अगला हिस्सा अंदर की तरफ मुड़ जाना)
  • उंगली बीच वाले जोड़ से अंदर की तरफ मुड़ जाना
  • कट या घाव बनना

टेंडन में आमतौर पर खेलने के दौरान कट लगने या कुचलने के कारण होता है। इसके अलावा किसी जानवर द्वारा हाथ पर काटने से भी एक्सटेंसर टेंडन क्षतिग्रस्त हो सकता है। कुछ दुर्लभ मामलों में रूमेटाइड अर्थराइटिस के कारण भी एक्सटेंसर टेंडन क्षतिग्रस्त होते देखा गया है।

कुछ विशेष लक्षण जिन्हें देखतर डॉक्टर आपको एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर सर्जरी करवाने की सलाह दे सकते हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं -

  • उंगली का अंतिम जोड़ मुड़ना
  • कलाई या उंगली को सीधी न कर पाना
  • उंगली में सूजन व दर्द होना
  • प्रभावित उंगली की आकृति सामान्य न दिखना

(और पढ़ें - उंगली की हड्डी का खिसकने का कारण)

कुछ स्थितियां हैं जिनमें एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर सर्जरी करने से मना किया जा सकता है या फिर विशेष ध्यान रखते हुए सर्जरी की जाती है -

  • प्रभावित हिस्से में कोई हड्डी टूटी होना
  • प्रभावित हिस्से में कोई नस या धमनी क्षतिग्रस्त होना
  • किसी कारण से सर्जरी के बाद देखभाल करने में सक्षम न होना
  • शरीर में संक्रमण से संबंधित कोई लक्षण महसूस होना

यदि एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर को किसी इमरजेंसी स्थितियों में नहीं किया जा रहा है तो सर्जरी से कुछ दिन पहले आपको अस्पताल बुलाया जाता है और आपके शारीरिक लक्षणों जांच की जाती है जैसे दर्द, सूजन व अकड़न आदि। साथ ही साथ आपके स्वास्थ्य संबंधी पिछली सभी जानकारियां ली जाती हैं। आपको कुछ टेस्ट भी करवाने की सलाह दी जा सकती हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं -

इसके अलावा एक्सटेंसर टेंडन रिपेयर सर्जरी से पहले आपको कुछ अन्य बातों का ध्यान रखने की सलाह भी दी जा सकती है -

  • यदि आपको स्वास्थ्य संबंधी कोई बीमारी या एलर्जी आदि है, तो सर्जरी से पहले ही डॉक्टर को इस बारे में अवश्य बता दें।
  • यदि आप किसी भी प्रकार की दवा, हर्बल उत्पाद, विटामिन या अन्य कोई सप्लीमेंट ले रहे हैं या फिर कुछ दिन पहले तक ले रहे थे तो इस बारे में डॉक्टर को बता दें। डॉक्टर कुछ दवाओं व उत्पादों को एक निश्चित समय तक बंद करवा सकते हैं, जिनमें आमतौर पर रक्त पतला करने वाली दवाएं शामिल हैं।
  • यदि आप गर्भवती हैं या भविष्य में गर्भधारण की योजना बना रही हैं, तो इस बारे में डॉक्टर को बता दें।
  • यदि आप सिगरेट या शराब पीते हैं, तो डॉक्टर आपको सर्जरी से कुछ दिन पहले और बाद तक इन्हें छोड़ने की सलाह दे सकते हैं। ऐसा करने से आपके सर्जरी के घाव जल्दी ठीक होते हैं और कई जटिलताएं होने का खतरा भी कम हो जाता है।
  • अस्पताल में अपने साथ किसी करीबी रिश्तेदार या मित्र को लेकर जाएं ताकि सर्जरी से पहले और बाद के कार्यों में आपको मदद मिल सके।
  • आपको सहमति पत्र दिया जाता है, जिसपर हस्ताक्षर करके आप सर्जन को सर्जरी करने की अनुमति दे देते हैं। उस पेपर पर साइन करने से पहले उसे अच्छे से पढ़ व समझ लें।

(और पढ़ें - शराब की लत छुड़ाने के घरेलू उपाय)

जब आप ऑपरेशन के लिए अस्पताल पहुंच जाते हैं, तो मेडिकल टीम आपको एक विशेष ड्रेस पहनने को देती है जिसे “हॉस्पिटल गाउन” कहा जाता है। इसके बाद आपकी बांह की नस में सुई लगाकर उसे इंट्रावेनस लाइन से जोड़ दिया जाता है, जिसकी मदद से आपको सर्जरी के दौरान आपको दवाएं व आवश्यक द्रव दिए जाते हैं। इंट्रावेनस लाइन के माध्यम से आपको लोकल एनेस्थीसिया का इंजेक्शन भी दिया जाता है, जिसकी मदद से उस हिस्से को पूरी तरह से सुन्न कर दिया जाता है। 

एनेस्थीसिया का असर शुरू होने के बाद ऑपरेशन प्रोसीजर शुरू की जाती है, जो कुछ इस प्रकार है -

  • टेटनस का इंजेक्शन लगाया जाता है और साथ ही कुछ एंटीबायोटिक दवाएं दी जाती हैं।
  • आपको टेबल पर कमर के बल लिटा दिया जाता है और घाव को साफ किया जाता है। प्रभावित बांह पर एक विशेष पट्टी बांध दी जाती है, ताकि रक्त का बहाव कम हो सके।
  • इसके बाद हाथ पर एक कट लगाया जाता है और उसकी मदद से क्षतिग्रस्त टेंडन को ढूंढा जाता है।
  • टेंडन की पहचान होने के बाद उसे विशेष टांकों की मदद से जोड़ दिया जाता है।
  • क्षतिग्रस्त टेंडन को सफलतापूर्वक जोड़ने के बाद त्वचा के चीरे को बंद कर दिया जाता है और फिर एक सख्त स्प्लिंट लगा दी जाती है।

इस सर्जरी को पूरा करने में लगभग आधे घंटे का समय लग जाता है। जैसे-जैसे लोकल एनेस्थीसिया का असर कम होने लगता है तो आपको दर्द महसूस होने लगता है। दर्द को कम करने के लिए आपको विशेष पेनकिलर दवाएं दी जाती हैं। सर्जरी के बाद आपको बहुत ही कम मामलों में अस्पताल रुकना पड़ता है और अधिकतर मामलों में आपको उसी दिन अस्पताल से छुट्टी मिल जाती है।

(और पढ़ें - एंटीबायोटिक दवा लेने से पहले ज़रूर रखें इन बातों का ध्यान)

सर्जरी के बाद पूरी तरह से ठीक होने में आपको लगभग एक से तीन महीनों का समय लग जाता है, ता प्रभावित हिस्से की गंभीरता और लोकेशन पर निर्भर करता है। ऑपरेशन के बाद जब आपको अस्पताल से छुट्टी मिलती है, तो इस दौरान डॉक्टर आपको निम्न बातों का ध्यान रखने के निर्देश देते हैं -

  • स्प्लिंट -
    रिकवरी पीरियड के दौरान आपको स्प्लिंट पहनने को कहा जाता है, जिसकी मदद से प्रभावित हाथ की उंगलियों को एक ही पोजीशन में रखा जाता है। सप्लिंट को लगभग एक महीने तक पर्मानेंट रखा जाता है। इसके बाद डॉक्टर आपको एक्सरसाइज आदि करते समय स्प्लिंट को उतारने की अनुमति दे देते हैं। धीरे-धीरे स्प्लिंट के इस्तेमाल को कम कर दिया जाता है और आप रात को सोते समय व भीड़-भाड़ वाली जगह पर जाते समय ही इसका इस्तेमाल करने लगते हैं।
     
  • गतिविधि -
    ऑपरेशन के लगभग छह हफ्तों बाद आप अपने हाथ से सामान्य गतिविधियां शुरू कर सकते हैं, जैसे खाना व लिखना आदि। आठ हफ्तों के बाद आप अपने हाथ की गतिविधियों को धीरे-धीरे बढ़ा सकते हैं। जब ऑपरेशन को दस हफ्ते से अधिक समय हो जाएं तो आप अपने हाथ का सामान्य रूप से इस्तेमाल करना शुरू कर सकते हैं। हालांकि, कोई भी भारी या अधिक मेहनत वाला काम करने से पहले एक बार डॉक्टर से अनुमति अवश्य ले लें।
     
  • एक्सरसाइज -
    फिजिकल थेरेपिस्ट आपको कुछ विशेष एक्सरसाइज करना सिखा सकते हैं। इन विशेष व्यायामों की मदद से आपको जल्द से जल्द स्वस्थ होने में मदद मिलती हैं।
     
  • खेलकूद में भाग लेना -
    ऑपरेशन के लगभग तीन महीनों बाद आप किसी भी खेलकूद क्रिया में भाग ले सकते हैं। हालांकि, शुरू करने से पहले एक बार डॉक्टर से अनुमति अवश्य लें।
     
  • आहार -
    ऑपरेशन के बाद आपको पतले व हल्के खाद्य पदार्थ दिए जाते हैं, ताकि आपको कब्ज आदि की समस्या न हो पाए। साथ ही आपके आहार में पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ शामिल किए जाते हैं, जिससे आपको जल्द से जल्द स्वस्थ होने में मदद मिलती है।
     
  • दर्द निवारण -
    सर्जरी के बाद कुछ दिन तक दर्द रह सकता है, जिसके लिए डॉक्टर आपको विशेष पेनकिलर दवाएं दे सकते हैं। सूजन आदि को कम करने के लिए बर्फ से सिकाई करने की सलाह भी दी जा सकती है।
     
  • नहाना -
    यदि हाथ पर बैंडेज लगाई गई है, तो नहाते समय उस हाथ को गीला होने से बचाने के निर्देश दिए जाते हैं। हालांकि, कुछ मामलों में आपको वाटर प्रूफ पट्टी भी दी जा सकती है, जिसे लगाकर आप नहा शॉवर ले सकते हैं।

डॉक्टर को कब दिखाएं?

यदि आपको निम्न में से कोई भी लक्षण महसूस हो रहा है, तो डॉक्टर से इस बारे में तुरंत बात करें -

  • बुखार
  • सर्जरी वाले हिस्से से बदबू आना
  • घाव से द्रव बहना व ब्लीडिंग होना
  • आसपास का हिस्सा सुन्न रहना
  • सांस लेने में दिक्कत
  • पेनकिलर लेन के बाद भी दर्द न होना
  • सीने में दर्द रहना
  • घाव में अधिक सूजन या लालिमा होना
  • उंगली को सामान्य रूप से इस्तेमाल न कर पाना

(और पढ़ें - छाती में दर्द होने पर क्या करें)

Dr. Sanjeev Kumar

Dr. Sanjeev Kumar

ओर्थोपेडिक्स
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Anand Chavan

Dr. Anand Chavan

ओर्थोपेडिक्स
19 वर्षों का अनुभव

Dr. Sandeep Gupta

Dr. Sandeep Gupta

ओर्थोपेडिक्स
20 वर्षों का अनुभव

Dr. N Somasekhar Reddy

Dr. N Somasekhar Reddy

ओर्थोपेडिक्स
32 वर्षों का अनुभव

संदर्भ

  1. Griffin M, Hindocha S, Jordan D, Saleh M, Khan W. Management of extensor tendon injuries. Open Orthop J. 2012;6:36–42. PMID: 22431949.
  2. National Health Service [Internet]. UK; Hand tendon repair
  3. Massachusetts General Hospital [Internet]. Boston. Massachusetts. US; Extensor Tendon Injuries
  4. Brigham Health [Internet]. Brigham and Women's Hospital. Massachusetts. US; Standard of Care: Flexor /Extensor Tendon Laceration of the Forearm, Wrist, Digits
  5. American Society for Surgery of the Hand [Internet]. Illinois. US; Extensor Tendon Injury
  6. Michigan Medicine [internet]. University of Michigan. US; Extensor Tendon and Mallet Finger Injuries
  7. Beth Israel Lahey Health: Winchester Hospital [Internet]. Winchester. Maryland. US; Finger Extensor Tendon Injury
  8. Irwin TA. Tendon injuries of the foot and ankle. In: Miller MD, Thompson SR, eds. DeLee and Drez’s Orthopaedic Sports Medicine. 4th ed. Philadelphia, PA: Elsevier Saunders; 2015:chap 117.
  9. Cannon DL. Flexor and extensor tendon injuries. In: Azar FM, Beaty JH, Canale ST, eds. Campbell’s Operative Orthopaedics. 13th ed. Philadelphia, PA: Elsevier; 2017:chap 66.
  10. American Society of Anesthesiologists [Internet]. Illinois. US; Preparing for Surgery: Checklist
  11. Moore A, Marappa-Ganeshan R. Hand Extensor Tendon Lacerations. [Updated 2020 Oct 27]. In: StatPearls [Internet]. Treasure Island (FL): StatPearls Publishing; 2020 Jan
  12. LMH Health [Internet]. Lawrence Memorial Hospital. Kansas. US; Extensor Tendon Repair
  13. University Hospital Southampton [Internet]. NHS Foundation Trust. National Health Service. UK; Wrist extensor tendon injury
  14. South Tees Hospitals [Internet]. National Health Service. NHS Foundation Trust. UK; [link]
  15. National Institute of Neurological Disorders and Stroke [Internet[. National Institute of Health. US Department of Health and Human Services. US; Complex Regional Pain Syndrome Fact Sheet
  16. Chelsea and Westminster Hospital [Internet]. NHS Foundation Trust. National Health Service. UK; Extensor Tendon Repair
  17. University Hospitals Birmingham [Internet]. NHS Foundation Trust. National Health Service. UK; Hand Extensor Tendon repair therapy advice
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ