सर्जरी की जानकारी के लिए फॉर्म भरें।
हम 48 घंटों के भीतर आपसे संपर्क करेंगे।

एब्डोमिनोप्लास्टी को टमी टक सर्जरी (Tummy tuck surgery) भी कहा जाता है। इस सर्जिकल प्रक्रिया की मदद से व्यक्ति के पेट से अतिरिक्त चर्बी को हटा दिया जाता है। इस सर्जरी की मदद से पेट की लटकती हुई चर्बी को हटाकर उस भाग को टाइट कर दिया जाता है, ताकि आप पतले दिखें। हालांकि, इस प्रक्रिया को वजन कम करने के लिए व्यायाम या आहार बदलाव आदि प्रक्रियाओं के विकल्प के रूप में नहीं लिया जा सकता है। यह सर्जरी आमतौर पर उन ही लोगों की की जा सकती है, जो धूम्रपान नहीं करते हैं और उनका वजन अत्यधिक बढ़ गया है, जिसे जल्द से जल्द कम करना जरूरी है। अन्य सर्जिकल प्रक्रियाओं की तरह ही एब्डोमिनोप्लास्टी से भी कई खतरे व जटिलताएं जुड़ी हो सकती हैं। सर्जरी के बाद जल्दी रिकवर होने के लिए डॉक्टर द्वारा दिए गए सुझावों का पालन करना जरूरी होता है।

(और पढ़ें : 5 दिन में पेट की चर्बी कम करने का तरीका)

  1. एब्डोमिनोप्लास्टी क्या है? - What is abdominoplasty in Hindi
  2. एब्डोमिनोप्लास्टी क्यों की जाती है? - Why is abdominoplasty recommended in Hindi
  3. एब्डोमिनोप्लास्टी से पहले - Preparations before surgery in Hindi
  4. एब्डोमिनोप्लास्टी के दौरान - During Abdominoplasty in Hindi
  5. एब्डोमिनोप्लास्टी के बाद - After Abdominoplasty in Hindi
  6. एब्डोमिनोप्लास्टी से जुड़ी संभावित जटिलताएं - Complications of Abdominoplasty in Hindi

टमी टक सर्जरी या एब्डोमिनोप्लास्टी ऐसी सर्जिकल प्रक्रिया है, जिसका उपयोग पेट से अतिरिक्त चर्बी हटाने और सपाट पेट पाने के लिए किया जाता है। इस प्रक्रिया में पेट के आसपास लटक रही अतिरिक्त त्वचा को हटा दिया जाता है और पेट की मांसपेशियों को टाइट कर दिया जाता है। यह आमतौर पर उन लोगों के लिए की जाती है, जिनकी पेट की चर्बी अत्यधिक बढ़ गई है और वे किसी कारण से व्यायाम नहीं कर पाते हैं।

हालांकि, इस प्रक्रिया को व्यायाम या डाइट आदि के विकल्प के रूप में उपयोग में नहीं लाया जा सकता है।

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को सेक्स समस्याओं के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Long time capsule
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

जिन लोगों के पेट से अधिक चर्बी लटक रही है, वे एक सुंदर दिखने वाला पेट पा सकते हैं। पेट से असामान्य रूप से लटकने वाली त्वचा आमतौर पर निम्न कारणों से हो सकती है -

  • वंशानुगत या आनुवंशिक कारण
  • उम्र बढ़ना
  • गर्भावस्था (क्योंकि इसमें त्वचा स्ट्रेच हो जाती है और बाद में लटकने लगती है)
  • वजन में बार-बार होने वाले उतार-चढ़ाव
  • वैसे लोग जो कभी मोटे थे और इस वजह से पेट के आसपास अब भी अतिरिक्त चर्बी और ढीली स्किन मौजूद है

एब्डोमिनोप्लास्टी सर्जरी को निम्न मामलों में रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी के रूप में भी किया जा सकता है -

  • पेट में किसी तरह की संरचनात्मक विकृतियों को ठीक करना उदाहरण के लिए गैस्ट्रोसचीसिस और ओम्फैलोसील जैसे जन्मजात दोष
  • पिछली सर्जरी की वजह से पेट पर मौजूद निशान या धब्बे को या फिर मोटापे की वजह से ढीली और लटकी हुई स्किन को संशोधित करना
  • हर्निया के ऑपरेशन के बाद पेट की रूपरेखा में सुधार करना

एब्डोमिनोप्लास्टी से पहले तैयारी के रूप में कुछ विशेष कार्य हैं, जिन्हें करने की जरूरत पड़ती है -

  • डॉक्टर सबसे पहले मरीज से उसके स्वास्थ्य संबंधी पिछली स्थिति के बारे में पूछते हैं और साथ में यह भी पूछते हैं कि आप कौन सी दवाएं ले रहे हैं।
  • यदि मरीज को किसी प्रकार की एलर्जी या त्वचा संबंधी कोई रोग है, तो डॉक्टर इस बारे में भी आपसे पूछ सकते हैं।
  • आपको सर्जरी होने से लगभग 4 हफ्ते पहले ही धूम्रपान छोड़ने की सलाह दी जा सकती है।
  • सर्जरी से पहले कुछ टेस्ट भी किए जा सकते हैं, जिनमें ब्लड टेस्ट, एक्स रे या इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम आदि शामिल हैं।
  • यदि आप नॉन स्टेरॉइड एंटी इंफ्लामेंट्री दवाएं, एस्पिरिन या इससे संबंधित कोई दवा ले रहे हैं, तो डॉक्टर इन्हें छोड़ने की सलाह दे सकते हैं।
  • संक्रमण होने के खतरे को कम करने के लिए पहले ही कुछ प्रकार की एंटीबायोटिक दवाएं दी जा सकती हैं।
  • आपको सर्जरी वाले दिन कुछ भी न खाने की सलाह दी जाती है और खाली पेट अस्पताल आना होता है
myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Kesh Art Hair Oil बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने 1 लाख से अधिक लोगों को बालों से जुड़ी कई समस्याओं (बालों का झड़ना, सफेद बाल और डैंड्रफ) के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Bhringraj hair oil
₹425  ₹850  50% छूट
खरीदें

एब्डोमिनोप्लास्टी में कम से कम दो से चार घंटो का समय लगता है। अस्पताल में भर्ती होने के बाद एब्डोमिनोप्लास्टी की प्रक्रिया शुरू की जाती है, जो कुछ इस प्रकार है -

  • सबसे पहले मरीज की बांह में एक इंट्रावेनस लाइन लगाई जाती है, जिसकी मदद से शरीर में आवश्यक द्रव व दवाएं पहुंचाई जाती हैं।
  • सर्जरी शुरू करने से पहले ही आपको एनेस्थीसिया का इंजेक्शन लगा दिया जाता है, ताकि आप गहरी नींद में सो जाएं और सर्जरी के दौरान आपको दर्द या किसी प्रकार की तकलीफ महसूस न हो।

एब्डोमिनोप्लास्टी प्रक्रिया को आमतौर पर निम्न में से किसी एक प्रक्रिया की मदद से किया जाता है -

  • कम्पलीट एब्डोमिनोप्लास्टी
  • पार्शियल या मिनी एब्डोमिनोप्लास्टी
  • सर्कमफेरेन्शल एब्डोमिनोप्लास्टी

एब्डोमिनोप्लास्टी प्रक्रिया को निम्न तरीके से किया जाता है -

इस प्रक्रिया में सबसे पहले मरीज के पेट में नाभि के पास एक कट लगाया जाता है। कट इस प्रकार से लगाया जाता है, जिसकी मदद से चर्बी के अतिरिक्त हिस्से को अलग किया जा सके। उसके बाद सर्जन मांसपेशियों को एक-दूसरे से मिलाकर उन्हें जोड़ देते हैं और एक जगह पर स्थिर कर देते हैं। उसके बाद पेट की मांसपेशियों को एक तरफ खींचा जाता है, ताकि वह एक जगह पर जमा न हो पाए।

यदि ऐसी स्थिति में नाभि दिख नहीं रही है या फिर अपनी जगह से हट गई है, तो सर्जन दूसरी तरफ कट लगाते हैं, ताकि त्वचा को खींचकर नाभि को अपनी जगह पर लाया जा सके।

कट को जोड़ने के लिए सर्जिकल ग्लू या टांकों का इस्तेमाल किया जाता है। ये टांके अपने आप त्वचा में ही गलकर मिल जाते है या फिर इन्हें बाद में निकाला जाता है।

सर्जिकल प्रक्रिया के बाद आपको रिकवरी रूम में भेज दिया जाता है और दर्द को कम करने व संक्रमण होने से रोकने के लिए कुछ दवाएं दी जाती हैं।

सूजन आदि को कम करने के लिए आपको कुछ हल्के दबाव वाले कपड़े पहनने की सलाह दी जाएगी, ताकि पेट की आकृति बनने में मदद मिल पाए।

रक्त गाढ़ा होने से रोकने के लिए आपको एंटी-कॉएग्युलेंट दवाएं दी जाएंगी, ताकि खून का थक्का न बनने पाए।

सर्जरी होने के बाद पहले ही दिन आपको थोड़ा बहुत चलने-फिरने की सलाह दी जाएगी, ताकि आपके शरीर में रक्त ठीक से संचारित होता रहे और रक्त का थक्का न बन पाए।

सर्जरी होने के बाद जब आपको घर जाने के लिए छुट्टी मिल जाती है, तो आपको कुछ दिशानिर्देश दिए जाएंगे, जिनका ध्यानपूर्वक पालन करना बेहद जरूरी होता है। एब्डोमिनोप्लास्टी के बाद निम्न बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है -

सर्जरी के घावों की देखभाल करना

एब्डोमिनोप्लास्टी होने के बाद आप कम से कम छ: महीने तक व्यायाम या फिर कोई कठिन शारीरिक गतिविधि न करें, क्योंकि ऐसा करने से सर्जरी के टांकों व घावों पर दबाव या खिंचाव पड़ सकता है।

सर्जरी के घावों की डॉक्टर की सलाह के अनुसार देखभाल करें और समय पर उनकी पट्टी आदि बदलते रहें।

तैराकी न करें और ना ही बाथटब में तब तक न नहाएं जब तक डॉक्टर ऐसा करने की अनुमति न दें।

नहाने के बाद टांकों व घावों को साफ कपड़े के साथ बिल्कुल हल्के-हल्के पोंछें।

यदि सूजन या अन्य तकलीफ हो रही है तो ठंडी सिकाई करें, ऐसा करने के लिए आप बर्फ के टुकड़े को कपड़े में लपेट कर या आइस पैक का इस्तेमाल कर सकते हैं।

घाव व टांकों पर कोई क्रीम, तेल या लोशन न लगाएं और ना ही किसी अन्य कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें।

डॉक्टर कुछ विशेष दिशा निर्देश देंगे, जिससे आप अपने शरीर को सही पॉजिशन में रख पाएंगे, जिनमें निम्न शामिल हैं -

  • अचानक से कोई शारीरिक गतिविधि न करें, जैसे अचानक से मुड़ना या झुकना क्योंकि इनसे टांके खुल सकते हैं
  • आपको अपने काम से एक महीने तक की छुट्टी लेनी पड़ सकती है
  • कम से कम 6 महीने तक जिम न जाएं और न ही घर पर कोई एक्सरसाइज करें
  • रोजाना थोड़ा बहुत चलें-फिरें हालांकि, डॉक्टर के सुझाव से अधिक न चलें
  • सर्जरी के 14 दिन तक बिल्कुल भी वजन न उठाएं
  • जब तक डॉक्टर अनुमति न दें ड्राइव भी न करें

डॉक्टर को कब दिखाएं?

यदि आपको सर्जरी के बाद निम्न में से कोई भी समस्या हो रही है, तो जल्द से जल्द डॉक्टर से इस बारे में बात करें।

  • तेज बुखार होना
  • सीने में दर्द या सांस लेने में तकलीफ होना
  • हृदय की धड़कन असामान्य होना (कम या ज्यादा)
  • यदि दवाओं से दर्द कम नहीं हो पा रहा है
  • जांघ, पिंडली या टांग की मांसपेशियों में सूजन, दर्द या लालिमा होना
  • सर्जरी के घाव में संक्रमण हो जाना
myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Energy & Power Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को शारीरिक व यौन कमजोरी और थकान जैसी समस्या के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Power capsule for men
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

एब्डोमिनोप्लास्टी या टमी टक सर्जरी में निम्नलिखित जोखिम और जटिलाएं हो सकती हैं -

  • चर्बी और खून का थक्का जमना
  • घाव या चोट धीरे-धीरे भर रहे हों
  • फैट नेकरोसिस (स्किन के बहुत अंदर गहराई में फैट सेल्स की मृत्यु होना) सर्जरी की वजह से उस हिस्से में आघात लगना
  • पेट में तरल पदार्थ की वृद्धि हो रही हो (सेरोमा)
  • ब्लीडिंग या इंफेक्शन हो गया हो
  • सर्जरी जिस क्षेत्र में हुई है उसके आसपास की नसों, रक्त धमनियों, मांसपेशियों और अंगों में किसी तरह की चोट या क्षति होना

(और पढ़ें : पेट की चर्बी कम करने के आसान उपाय)

संदर्भ

  1. American Society of Plastic Surgeons [Internet]. Illinois. US; Tummy Tuck
  2. American Board of Cosmetic Surgery [Internet]. Indiana. US; Tummy tuck guice
  3. Cleveland Clinic. [Internet]. Cleveland. Ohio. US; Abdominoplasty (Tummy Tuck)
  4. Health direct [internet]: Department of Health: Australian government; Abdominoplasty
  5. Australian Society of Plastic Surgeons [Internet]. NSW. Australia; Abdominoplasty
  6. Beth Israel Lahey Health: Winchester Hospital [Internet]. Winchester. Maryland. US; Abdominoplasty.
  7. UF Health: UF Health Plastic Surgery and Aesthetics Center [Internet]. University of Florida Health. Florida. US; Abdominoplasty – Tummy Tuck Surgery
  8. National Health Service [internet]. UK; Tummy tuck (Abdominoplasty)
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ