myUpchar Call

अगर सेक्स से लंबे समय तक दूरी बना ली जाए, तो इसका नकारात्मक प्रभाव शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों पर पड़ सकता है. देखा जाए तो ऐसे कई कारण हैं, जिनकी वजह से लोग सेक्स करना पसंद कर सकते हैं. जैसे - अच्छा महसूस करने के लिए, दूसरों को खुश करने के लिए, तनाव से राहत पाने के लिए या फिर परिवार को आगे बढ़ाने के लिए. वैसे तो सबकी अपनी-अपनी जरूरते हैं, लेकिन अगर लंबे समय तक सेक्स से दूरी बना ली जाए, तो इससे नुकसान भी हो सकते हैं. आज इस लेख में लंबे समय तक सेक्स न करने से होने वाले नुकसान के बारे में समझेंगे.

लंबे समय तक सेक्स करने के लिए इस्तेमाल करें यह एक्स्ट्रा टाइम स्प्रे. ब्लू लिंक पर क्लिक कर अभी खरीदें.

  1. क्या कहती है रिसर्च?
  2. लंबे समय तक सेक्स न करने से होने वाले नुकसान
  3. सारांश
यौन रोग के डॉक्टर

लंबे समय तक सेक्स न करने से होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में जानने से पहले सबसे पहले इस विषय पर हुई रिसर्च के बारे में जान लेते हैं. यूरोपियन यूरोलॉजी के अनुसार, साल 2016 में हुई रिसर्च में देखा गया कि वैसे पुरुष जिन्होंने एक महीने में कम से कम 21 बार इजैकुलेट किया, उनमें प्रोस्टेट कैंसर का खतरा उन पुरुषों की तुलना में कम देखा गया, जो एक महीने में सिर्फ 4 से 7 बार ही इजैकुलेट करते हैं. वहीं, अगर महिलाओं की बात करें, तो पार्टनर या अकेले सेक्शुअल एक्टिविटी में हिस्सा लेने पर उन्हें पेल्विक फ्लोर मसल को मजबूत बनाने में मदद मिली, जिससे ब्लैडर को ठीक तरह से काम करने और असंयम लीकेज की समस्या भी कम हुई.

(और पढ़ें - रोज सेक्स करने से क्या होता है)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को सेक्स समस्याओं के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Long time capsule
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

चलिए अब लंबे समय तक सेक्स न करने से होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में एक-एक करके समझते हैं -

इम्यून सिस्टम पर नकारात्मक असर

रिसर्च के अनुसार, साप्ताहिक सेक्स से इम्यून सिस्टम मजबूत हो सकता है. वहीं, अगर ऐसा नहीं होता है, तो इससे इम्युनोग्लोबुलिन ए या आईजीए नामक रोगाणु से लड़ने वाले पदार्थ का स्तर बढ़ सकता है. बस यह ध्यान रखें कि जरूरत से ज्यादा सेक्स को ठीक भी नहीं माना गया है. जो लोग सप्ताह में दो बार से अधिक सेक्स करते थे, उनमें आईजीए का स्तर उन लोगों की तुलना में कम था, जिन्होंने सेक्स नहीं किया था.

मेल सेक्स हार्मोन यानी टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा है टी बूस्टर कैप्सूल, जिसे बनाया गया है जड़ी-बूटियों के मिश्रण से.

नींद कम आने की समस्या

ऐसा माना जाता है कि सेक्स के बिना प्रोलैक्टिन और ऑक्सीटोसिन हार्मोन न बनने की वजह नींद आने में समस्या हो सकती है. वहीं, सेक्स से महिलाओं में एस्ट्रोजन लेवल बूस्ट होता है. 

(और पढ़ें - सेक्स पॉजिटिव के फायदे)

बॉडी पेन की समस्या

शारीरिक पीड़ा यानी दर्द की समस्या को भी दूर रखने में सेक्स को सहायक माना गया है. दरअसल, ऑर्गेज्म से आपके शरीर में एंडोर्फिन और अन्य हार्मोन रिलीज होते हैं, जो सिर, पीठ और पैर के दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं. वहीं, गठिया के दर्द और मासिक धर्म की ऐंठन को भी कम करने में मदद मिल सकती है.

(और पढ़ें - क्या सेक्स करने से हृदय स्वस्थ रहता है)

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या

अगर नियमित रूप से सेक्शुअल एक्टिविटी न की जाए, तो इससे ब्लड प्रेशर बढ़ने का खतरा बना रहता है. अब अगर इसके पीछे छुपे विज्ञान को समझा जाए, तो सेक्स की वजह से एरोबिक एवं मसल-बिल्डिंग जैसी एक्सरसाइज होती है, जो तनाव या चिंता को दूर करने में सहायक है.

(और पढ़ें - सेक्स के विभिन्न प्रकार)

यौन समस्याओं का खतरा

लंबे समय तक सेक्स न करने से सेक्स की इच्छा नहीं हो सकती है. अगर महिलाएं नियमित रूप से सेक्स न करें, तो मेनोपॉज के दौरान वजाइनल टिशू पतले होने के साथ-साथ सिकुड़ सकते हैं और ड्राई भी हो सकते हैं. ऐसी स्थिति के कारण सेक्स के दौरान दर्द की समस्या शुरू हो सकती है या सेक्स के प्रति आकर्षण कम हो सकता है. वहीं, पुरुषों में लंबे समय तक सेक्स न करने से इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या हो सकती है.  

(और पढ़ें - सुबह सेक्स करने के फायदे)

रिश्ते पर असर

लंबे समय तक सेक्स न करने की वजह से कपल के रिलेशनशिप पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है. दरअसल, हेल्दी सेक्शुअल एक्टिविटी कपल को एक-दूसरे के साथ वक्त बिताने और करीब से जानने का मौका देते हैं, जिससे उनका आत्मविश्वास बढ़ सकता है.

(और पढ़ें - सेक्स करना क्यों जरूरी है)

हृदय रोग का खतरा

रिसर्च के अनुसार, जो लोग महीने में एक बार या उससे कम बार सेक्स करते हैं, उनमें हार्ट डिजीज होने की आशंका उन लोगों की तुलना में अधिक होती है, जो सप्ताह में दो बार सेक्स करते हैं. दरअसल सेक्स से बॉडी को रिलैक्स करने में मदद मिल सकती है.

(और पढ़ें - सेक्स से कैसे तनाव कम होता है)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Oil बनाया है। इस आयुर्वेदिक तेल को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को सेक्स समस्याओं (शीघ्रपतन, लिंग में तनाव की कमी, पुरुषों में कामेच्छा की कमी) के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Men Massage Oil
₹399  ₹449  11% छूट
खरीदें

सेक्स या सेक्शुअल एक्टिविटी कपल के बीच की दूरी को कम करने में सहायक है. वहीं, इससे प्रोस्टेट कैंसर, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन या फिर वजाइनल टिशू से जुड़ी समस्याओं को भी दूर रखने मदद मिल सकती है. इसलिए, एक नियमित अंतराल के बाद पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाने से कपल एक दूसरे को फिट रखने में मदद कर सकते हैं. किसी भी कारण से कपल सेक्शुअल एक्टिविटी का आनंद नहीं ले पा रहे हों, तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. वहीं, अगर आपने कभी सेक्शुअल एक्टिविटी में हिस्से न लिया हो या आगे भी इससे दूर रहना चाहते हैं, तो इससे मेंटल या फिजिकल हेल्थ पर नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ सकता है. आप सेक्स की जगह फिजिकल एक्टिविटी, एक्सरसाइज या मेडिटेशन का सहारा ले सकते हैं.

(और पढ़ें - सेक्स टेबलेट के फायदे)

Dr. Zeeshan Khan

Dr. Zeeshan Khan

सेक्सोलोजी
9 वर्षों का अनुभव

Dr. Nizamuddin

Dr. Nizamuddin

सेक्सोलोजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Tahir

Dr. Tahir

सेक्सोलोजी
20 वर्षों का अनुभव

Dr. Ajaz  Khan

Dr. Ajaz Khan

सेक्सोलोजी
13 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें