Pushyanug Churna White Discharge tablet by Myupchar Ayurveda

 13336 लोगों ने इसको हाल ही में खरीदा
Myupchar Ayurveda Prajnas Pushyanug Churna Tablet 60 टैबलेट 1 बोतल ₹ 450 ₹499 9% छूट बचत: ₹49

   पूरे भारत में निःशुल्क शिपिंग
  • विक्रेता: Doctorvahini Pvt Ltd
    • मूल का देश: India

    उत्पाद वीडियो

    Pushyanug Churna White Discharge tablet by Myupchar Ayurveda की जानकारी

    आयुर्वेद का मूल उद्देश्य बीमारी के मूल कारणों की पहचान कर उनका इलाज करना है, ताकि समस्या को जड़ से खत्म किया जा सके. आयुर्वेद में महिलाओं को होने वाली व्हाइट डिस्चार्ज, योनि में खुजली, जलन व गर्भाशय में सूजन की समस्याओं का बेहतर इलाज बताया गया है.

    myUpchar के डॉक्टरों ने महिला स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या पर कई वर्षों की रिसर्च के बाद 100% आयुर्वेदिक myUpchar Ayurveda Pushyanug Churna Tablets को बनाया है.

    आयुर्वेदक में महिलाओं से जुड़ी समस्याओं के लिए पाठा, लोध्र, धातकी, मोचरस, अशोक व कटफल आदि जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है. myUpchar Ayurveda Pushyanug Churna Tablets को बनाने के लिए ऐसी ही 26 जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया गया है. इन औषधियों को ऑर्गेनिक तरीके से उगाया जाता है और इनकी शुद्धता कायम रहे, इसलिए इन्हें खेतों से निकालने के लिए मशीन की जगह हाथों का इस्तेमाल किया जाता है. इन सभी जड़ी-बूटियों को पुष्य नक्षत्र में तोड़ा जाता है, जिससे इनकी गुणवता और भी ज्यादा हो जाती है. साथ ही आयुर्वेद के पारपंरिक तरीके से इन औषधियों का अर्क निकाल कर दवा बनाई जाती है. इस पूरी प्रक्रिया में समय और मेहनत दोनों लगती हैं. प्राचीन वैज्ञानिक पद्धति से बनी इस आयुर्वेदिक दवा का किसी भी मेडिकल रिसर्च में साइड इफेक्ट नजर नहीं आया है.

    100% आयुर्वेदिक myUpchar Ayurveda Pushyanug Churna Tablets अन्य दवाओं के मुकाबले बिल्कुल अलग है. जहां अन्य दवाओं के निर्माण में जड़ी-बूटियों का पाउडर इस्तेमाल होता है, वहीं myUpchar Ayurveda Pushyanug Churna Tablets को औषधियों से निकले अर्क से तैयार किया जाता है. इसलिए, एक छोटे-से कैप्सूल में सभी हर्ब्स के गुण समाहित होते हैं. इस दवा को लेने से पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग, मूत्र मार्ग में बार-बार इंफेक्शन, गर्भाशय में फाइब्रॉएड व सिस्ट को ठीक किया जा सकता है.

    सामग्रियां : पाठा, जम्बू बीज मज्जा, आम्र बीज मज्जा, सिलभेद, रसांजन, अम्बष्टकी, मोचरस, समांगा, पद्म केसर, वह्लिका, अतीविषा, मुस्ता, बिल्व, लोध्र, गैरिक, कटफल, मरीच, शुण्ठि, मृदविका, रक्त चंदन, कटवंग, अनंत, वत्सक, धातकी, मधुक, अर्जुन

    मुख्य सामग्री

    अशोक

    अशोक गर्भधारण करने और गर्भाशय में आई समस्या को ठीक करने में मदद करती है. साथ ही गर्भाशय की मांसपेशियों को मजबूत करती है. यह पीरियड्स के समय योनि से होने वाले जरूरत से ज्यादा डिस्चार्ज और दर्द को कम करती है. अशोक को अच्छा रक्त शोधक यानी ब्लड प्यूरिफायर भी माना गया है.

    लोध्र

    इस जड़ी-बूटी का उल्लेख दिव्य औषधि के रूप में किया जाया है. महिला से जुड़ी स्वास्थ्य समस्याओं में लोध्र को सबसे अच्छी जड़ी-बूटी माना जाता है. यह बूटी कफ-पित्त दोष और इससे होने वाली बीमारियों को ठीक करने में फायदेमंद साबित होती है. लोध्र की छाल का उपयोग गर्भाशय के टॉनिक के रूप में किया जाता है. आचार्य चरक ने योनि से होने वाले डिस्चार्ज को ठीक करने के लिए लोध्र का महत्व बताया है.

    पाथा

    योनि से असामान्य रूप से डिस्चार्ज होने की स्थिति में यह औषधि सबसे कारगर है. साथ ही महिलाओं की प्रजनन प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए सबसे अच्छी औषधि है. दवा के रूप में इस्तेमाल करने के लिए पाठा की जड़ और पत्तियों का इस्तेमाल किया जाता है. पाठा का उपयोग मूत्रवर्धक के रूप में भी किया जाता है, जिस कारण से यह औषधि पेशाब करते समय होने वाली जलन में फायदेमंद साबित हो सकती है. आचार्य चरक ने संध्या वर्ग में पाठा का खासतौर से उल्लेख किया है, जिसमें कहा गया है कि इसमें बीमारी को ठीक करने के गुण हैं.

    धवई फूल

    यह औषधि पित्त और कफ दोष को ठीक करती है. धातकी के फूल खुजली और जलन को कम करने में मदद करते हैं. इसका इस्तेमाल करने से महिलाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता व ताकत बढ़ती है. इम्यून सिस्टम के कमजोर होने के कारण ही महिला को व्हाइट डिस्चार्ज का सामना करना पड़ता है. धातकी के फूलों का उपयोग पीरियड्स के समय होने वाले दर्द और व्हाइट डिस्चार्ज के कारण होने वाले पीठ दर्द को कम करने के लिए भी किया जाता है.

    इसे किसे लेना चाहिए?

    अगर किसी को है -

    • व्हाइट डिस्चार्ज.
    • योनि से डिस्चार्ज.
    • हार्मोनल असंतुलन.
    • इर्रेगुलर पीरियड्स.
    • मूत्र मार्ग में संक्रमण.
    • पेशाब में जलन.
    • पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग.

    फ़ायदे

    • यूट्रस में इंफेक्शन को कम करे.
    • गर्भाशय की झिल्ली को ठीक करे.
    • योनि से होने वाले असामान्य डिस्चार्ज को रोके.
    • मूत्र मार्ग में होने वाली जलन को ठीक करे.
    • हार्मोंस का लेवल सही करे.

    दिशा-निर्देश

    • 1 से 2 कैप्सूल हल्के गुनगुने पानी/चावल के पानी/पत्रांगासव/कुमार्यासव के साथ दोपहर को व रात को खाने के बाद या फिर जिस तरह से डॉक्टर कहे.

    अवधि

    • अगर व्हाइट डिस्चार्ज 6 महीने से है - 3 महीने तक लें या फिर जिस तरह से डॉक्टर कहे.
    • अगर व्हाइट डिस्चार्ज 6 महीने से ज्यादा समय से है - 6 महीने तक लें (कम से कम) या फिर जिस तरह से डॉक्टर कहे.
    • अगर व्हाइट डिस्चार्ज 1 वर्ष से ज्यादा समय से है - 1 वर्ष तक लें (कम से कम) या फिर जिस तरह से डॉक्टर कहे.
     

    प्रमुख बिंदु

    अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स लेते समय कोई विशेष खाना लेना चाहिए?

    • माई उपचार पुष्यानुग टेबलेट्स क्यूँ उपयोगी हैं?

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स लेते समय कोई विशेष खाना लेना चाहिए?

    • क्या रजोनिवृत्ति के बाद स्वास्थ्य के लिए पुष्यानुग टेबलेट्स का सेवन किया जा सकता है?

    • क्या फाइब्रॉएड के इलाज के लिए पुष्यानुग टेबलेट्स का उपयोग किया जा सकता है?

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स को मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूटीआई) के लिए लिया जा सकता है?

    • क्या हार्मोनल असंतुलन के लिए पुष्यानुग टेबलेट्स का सेवन किया जा सकता है?

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स गर्भाशय स्वास्थ्य के लिए प्रभावी है?

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स का उपयोग प्रजनन संबंधी समस्याओं के लिए किया जा सकता है?

    • पुष्यानुग टेबलेट्स क्या हैं?

    • क्या मासिक धर्म संबंधी विकारों के लिए पुष्यानुग टेबलेट्स का उपयोग किया जा सकता है?

    • पुष्यानुग टेबलेट्स के परिणाम दिखने में कितना समय लगता है?

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स हर उम्र की महिलाएं ले सकती हैं?

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए सुरक्षित है?

    • क्या पुष्यानुग टेबलेट्स को गर्भावस्था के दौरान लिया जा सकता है?

    • पुष्यानुग टेबलेट्स का उपयोग कैसे किया जाता है?

    • पुष्यानुग टेबलेट्स के लाभ क्या हैं?

    • पुष्यानुग टेबलेट्स के मुख्य तत्व क्या हैं?

    myUpchar Ayurveda द्वारा आयुर्वेदिक वैकल्पिक दवाएं

    Digestive Tablets एक बोतल में 60 टैबलेट ₹314 ₹34910% छूट
    Joint Support Tablet एक बोतल में 60 टैबलेट ₹449 ₹69535% छूट
    Chandraprabha Vati एक बोतल में 60 टैबलेट ₹310 ₹40022% छूट
    Ashwagandha Tablet एक बोतल में 60 टैबलेट ₹359 ₹39910% छूट
    Kanchnar Guggulu एक बोतल में 60 टैबलेट ₹315 ₹35010% छूट
    Skin Infection Tablet एक बोतल में 60 टैबलेट ₹499 ₹79937% छूट
    और दवाएं देखें