अल्सरेटिव कोलाइटिस आंतों में सूजन से संबंधित समस्या है. इसका कारण अभी भी अज्ञात है, लेकिन यह किसी भी उम्र के व्यक्ति को प्रभावित कर सकती है. इसके लक्षण अचानक नहीं, बल्कि धीरे-धीरे दिखाई देते हैं. इसमें बुखार, पेट दर्द, जोड़ों में दर्दमुंह में छाले जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं. हालांकि, इन सबके साथ एक सामान्य लक्षण भी दिखाई देता है, वो है थकान होना.

आज इस लेख में आप जानेंगे कि अल्सरेटिव कोलाइटिस और थकान के बीच क्या संबंध है -

(और पढ़ें - थकान दूर करने के घरेलू उपाय)

  1. थकान क्या है?
  2. अल्सरेटिव कोलाइटिस से हाने वाली थकान का कारण
  3. अल्सरेटिव कोलाइटिस में होने वाले थकान से कैसे निपटें?
  4. सारांश
अल्सरेटिव कोलाइटिस और थकान के डॉक्टर

थकान से ग्रस्त व्यक्ति को शरीर में कम एनर्जी महसूस होती है. पर्याप्त नींद लेने के बाद भी व्यक्ति को थकान महसूस हो सकती है. वैसे तो थकान के पीछे कई कारणों से हो सकते हैं, जैसे - तनावचिंताअवसाद, कोई मेडिकल अवस्था या फिर सर्जरी के बाद. कुछ मामलों में अल्सरेटिव कोलाइटिस भी थकान का कारण बन सकता है.

(और पढ़ें - थकान दूर करने के लिए क्या खाएं)

हां, अल्सरेटिव कोलाइटिस थकान का कारण बन सकता है. इस दौरान नीचे बताए गए कारणों से थकान हो सकती है -

(और पढ़ें - हमेशा थकान महसूस होने का इलाज)

अल्सरेटिव कोलाइटिस में होने वाले थकान को नीचे बताए गए उपायों से कुछ हद तक कम किया जा सकता है. ये इस प्रकार है -

  • नियमित व्यायाम करें, सैर करें, किसी स्पोर्ट्स एक्टिविटी का हिस्सा बनें. 
  • दिन में सोने से बचें. अगर सोना भी हो, तो 30 मिनट से ज्यादा न सोएं.
  • धूम्रपान और शराब का सेवन करने से बचें.
  • डॉक्टर से बात करें और पौष्टिक डाइट के बारे में जानकारी लें और उसी के अनुसार डाइट लें.
  • थकान का ट्रैक रखें कि कब ज्यादा थकान होती है. अगर जरूरत से ज्यादा थकान लगातार होती है, तो बेहतर है इस बारे में डॉक्टर से बात करें.

(और पढ़ें - अधिक थकान का इलाज)

थकान की समस्या से परेशान व्यक्ति रोज Sprowt Vitamin-B12 का सेवन कर सकता है -

अल्सरेटिव कोलाइटि के चलते शारीरिक स्वास्थ्य कई तरह से प्रभावित हो सकता है. हालांकि, इस दौरान व्यक्ति को मानसिक तौर पर भी सख्ता रहना जरूरी है. साथ ही साथ डॉक्टर से नियमित संपर्क में रहें और किसी भी तरह की असुविधा होने से उन्हें अपने स्वास्थ्य के बारे में बताएं. जितना हो सके तनाव से दूर रहें और स्वस्थ रूटीन को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं.

(और पढ़ें - सडन एक्सट्रीम फटीग का इलाज)

Dr. Swapnil Saurabh Deka

Dr. Swapnil Saurabh Deka

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Ravinder Jit Singh

Dr. Ravinder Jit Singh

सामान्य चिकित्सा
2 वर्षों का अनुभव

Dr. Keyur Maganbhai Patel

Dr. Keyur Maganbhai Patel

सामान्य चिकित्सा
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Shrishti Kumar

Dr. Shrishti Kumar

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ