दाने वाली खुजली होने पर बार-बार खुजलाने का मन करता है. अमूमन दाने वाली खुजली तब होती है, जब शरीर में किसी प्रकार का एलर्जिक रिएक्शन होता है. इसे आम भाषा में हाइव्स व शीतपित्त और मेडिकल भाषा में अर्टिकेरिया कहा जाता है. हालांकि, ये समस्या हानिकारक नहीं होती, लेकिन अगर लंबे समय तक रहे, तो यह ऑटोइम्यून कंडीशन या सिस्टमैटिक कंडीशन जरूर हो सकती है. इसका इलाज एंटीहिस्टामाइन दवा से किया जा सकता है.

आज इस लेख में आप दाने वाली खुजली की दवा व इलाज के बारे में जानेंगे -

त्वचा से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने के लिए अभी खरीदें निम्बादी चूर्ण.

  1. दाने वाली खुजली की दवा
  2. दाने वाली खुजली का इलाज
  3. सारांश
दाने वाली खुजली की दवा व उपचार के डॉक्टर

दाने वाली खुजली को ठीक करने के लिए डॉक्टर एंटीहिस्टामाइन दवा और एपिनेफ्रीन इंजेक्शन लेने की सलाह दे सकते हैं. आइए, दाने वाली खुजली की दवा के बारे में विस्तार से जानते हैं -

एंटीहिस्टामाइन दवा - Antihistamines Medicines

अमूमन दाने वाली खुजली और इसके साथ होने वाली सूजन अपने आप बिना किसी दवा के ठीक हो जाती है. वहीं, कई बार इसे ठीक करने के लिए डॉक्टर एंटीहिस्टामाइन दवा दे सकते हैं, जो शरीर पर हिस्टामाइन के प्रभाव को ब्लॉक कर देती हैं. एंटीहिस्टामाइन सिर्फ दाने वाली खुजली से राहत नहीं दिलाती है, बल्कि एलर्जिक रिएक्शन से भी बचाव करती हैं.

डाइफेनहाइड्रैमीन जैसी एंटीहिस्टामाइन जल्दी काम करती है. हालांकि, दाने वाली खुजली की गंभीरता को देखते हुए डॉक्टर लोराटैडाइनफेक्सोफेनाडिनसेट्रिजीन या लेवोसेट्रिजीन जैसी ओवर द काउन्टर दवाइयां लेने की सलाह दे सकते हैं.

(और पढ़ें - खुजली का आयुर्वेदिक इलाज)

एपिनेफ्रीन इंजेक्शन - Epinephrine Injections

कई बार दाने वाली खुजली के साथ अन्य गंभीर एलर्जी रिएक्शन व सूजन हो सकती है, जिसे एनाफिलेक्सिस कहा जाता है. इसमें दाने वाली खुजली के अलावा सांस लेने में दिक्कतउल्टी और लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है. जिन लोगों को एनाफिलेक्सिस की समस्या रहती है, उन्हें तुरंत एपिनेफ्रीन इंजेक्शन दिया जा सकता है.

फंगल इंफेक्शन का इलाज जानने के लिए कृपया यहां दिए लिंक पर करें क्लिक.

ओरल स्टेरॉइड्स - Oral Steroids

प्रेडनिसोन (prednisone) जैसे कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स (Corticosteroids) का इस्तेमाल भी दाने वाली खुजली की दवा के तौर पर किया जा सकता है. इसे तब देने की सलाह दी जाती है, जब एंटीहिस्टामाइन दवाओं को लेने से दाने वाली खुजली में आराम नहीं आता है.

(और पढ़ें - पूरे शरीर पर खुजली की दवा)

हाइड्रोकोर्टिसोन क्रीम - Hydrocortisone Cream

ओवर द काउन्टर कॉर्टिजोन जैसी हाइड्रोकॉर्टिसोन क्रीम को लगाने से खुजली और सूजन से आराम मिल सकता है. 

(और पढ़ें - खुजली दूर करने के घरेलू उपाय)

एलर्जी शॉट - Allergy Shots

कई दवाएं इस्तेमाल करने पर भी दाने वाली खुजली के ठीक न होने पर डॉक्टर ओमलिजूमैब (omalizumab) नामक इंजेक्शन लेने की सलाह दे सकते हैं. इसे महीने में एक बार लिया जाता है. यह दवा शरीर की एलर्जी एंटीबॉडी, इम्युनोग्लोबिन ई के प्रभाव को रोकने का काम कर सकती है.

(और पढ़ें - एक्जिमा के घरेलू उपाय)

दाने वाली खुजली का इलाज घर में भी किया जा सकता है. आइए, दाने वाली खुजली के इलाज के बारे में विस्तार से जानते हैं -

हल्के फैब्रिक वाले कपड़े

लाइट वेट कॉटन फैब्रिक के लूज कपड़े पहनने से खुजली से राहत मिलती है. इस समय डेनिम, वुलन या लिनन जैसे फैब्रिक के कपड़े नहीं पहनने चाहिए.

आयुर्वेदिक एंटी एक्ने क्रीम को सबसे कम दाम पर खरीदने के लिए यहां दिए लिंक पर करें क्लिक.

कोल्ड कंप्रेस का इस्तेमाल

दाने वाली खुजली की परेशानी से राहत पाने में कोल्ड कंप्रेस से आराम मिलता है. इसके लिए रुमाल यो तौलिये में बर्फ के टुकड़े बांधकर खुजली वाली जगह पर लगाने से राहत मिल सकती है.

(और पढ़ें - त्वचा पर चकत्ते का होम्योपैथिक इलाज)

सेंसिटिव स्किन वाले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल

सेंसिटिव स्किन के लिए खास तौर पर तैयार किए गए साबुन, मॉइश्चराइजर और कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल दाने वाली खुजली की गंभीरता को कम करता है और राहत दिलाता है. इस संबंध में त्वचा विशेषज्ञ से पूछा जा सकता कि किस प्रकार का साबुन या क्रीम फायदेमंद साबित होगी.

(और पढ़ें - मच्छर के काटने पर होने वाली खुजली के उपाय)

धूप से बचाव

दाने वाली खुजली की गंभीरता तब बढ़ जाती है, जब व्यक्ति धूप में निकलता है. इससे बचने के लिए बेहतर तो यह है कि धूप में बिल्कुल न निकला जाए. अगर किसी कारण से निकला भी पड़े, तो शरीर को अच्छी तरह ढककर और टोपी पहनकर निकला जाए.

(और पढ़ें - पित्ती की होम्योपैथिक दवा)

दाने वाली खुजली की दवा और इलाज इस बात पर निर्भर करते हैं कि उसके होने का क्या कारण है. दाने वाली खुजली की दवा के तौर पर ओवर द काउन्टर एंटीहिस्टामाइन दवाइयां और एपिनेफ्रीन इंजेक्शन से राहत मिलती है. सही फैब्रिक वाले कपड़े, कोल्ड कंप्रेस का इस्तेमाल और धूप से बचाव दाने वाली खुजली के इलाज के तौर पर सही तरीके से काम करते हैं. दाने वाली खुजली के संबंध में पहले डॉक्टर से सलाह लेना सही है, क्योंकि यह जरूरी नहीं है कि एक दवा सभी पर बराबर असर करे.

(और पढ़ें - नवजात शिशु को एक्जिमा)

Dr. Sarish Kaur Walia

Dr. Sarish Kaur Walia

डर्माटोलॉजी
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Rashmi Aderao

Dr. Rashmi Aderao

डर्माटोलॉजी
13 वर्षों का अनुभव

Dr. Moin Ahmad Siddiqui

Dr. Moin Ahmad Siddiqui

डर्माटोलॉजी
4 वर्षों का अनुभव

Dr. Merwin Polycarp

Dr. Merwin Polycarp

डर्माटोलॉजी
15 वर्षों का अनुभव

सम्बंधित लेख

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ