पेट में भारीपन - Heaviness in Stomach in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

April 18, 2022

April 18, 2022

पेट में भारीपन
पेट में भारीपन

आधुनिक लाइफस्टाइल और खराब खान-पान की वजह से इन दिनों कई तरह की समस्याएं हो रही हैं. पेट में भारीपन महसूस होना, इन्हीं समस्याओं में से एक है. पेट में भारीपन अधिक मात्रा में खाने, जल्दी-जल्दी खाने व फूड एलर्जी इत्यादि के कारण हो सकता है. वहीं, इसके लक्षणों की बात की जाए, तो पेट में भारीपन के साथ-साथ सांस फूलना, मतली जैसा अनुभव होना, पेट में दर्द होना जैसे लक्षण दिख सकते हैं.

पेट में भारीपन की परेशानी होने पर डॉक्टर इसका इलाज लाइफस्टाइल में बदलाव करने के साथ-साथ कुछ दवाइयां भी दे सकते हैं. इसके अलावा, कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से भी पेट में भारीपन की परेशानी को दूर किया जा सकता है.

आज इस लेख में पेट में भारीपन के लक्षण, कारण व इलाज के बारे में विस्तार से बताया गया है -

(और पढ़ें - पेट की गैस के लिए उपाय)

पेट में भारीपन के लक्षण - Heaviness in Stomach Symptoms in Hindi

पेट में भारीपन के कई लक्षण हो सकते हैं, जिसमें पेट फूलना, पेट में दर्द होना, मतली जैसा अनुभव होना आदि शामिल है. इसके अलावा, कई अन्य लक्षण भी दिख सकते हैं, जैसे -

(और पढ़ें - पेट में इन्फेक्शन के घरेलू उपाय)

अगर शरीर में इस तरह के लक्षण काफी समय से दिख रहे हैं, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें, ताकि गंभीर स्थितियों से बचाव किया जा सके. इसके अलावा, अगर निम्न में से कोई भी लक्षण महसूस हो, तो तुरंत इमरजेंसी में इलाज कराएं.

(और पढ़ें - पेट रोग के घरेलू उपाय)

पेट में भारीपन के कारण - Heaviness in Stomach Causes in Hindi

पेट में भारीपन होने के कई कारण हो सकते हैं. जिसमें कुछ सामान्य कारण, जैसे - अधिक खाना व जल्दी-जल्दी खाना शामिल है. इसके साथ ही कुछ गंभीर कारण भी हो सकते हैं, जैसे- पेट में अल्सर, इरिटेबल बाउल सिंड्रोम व गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज आदि शामिल है. आइए इस बारे में जानते हैं -

पेट में भारीपन के सामान्य कारण

पेट में भारीपन के कुछ सामान्य कारण हो सकते हैं, जैसे -

  • खाने की आदत - खाने की कुछ गलत आदतों, जैसे- अधिक खाना, बहुत जल्दी-जल्दी खाना व स्ट्रेस लेकर भोजन करना इत्यादि के कारणों से पेट में भारीपन महसूस हो सकता है. इसके अलावा, कुछ खाद्य पदार्थों के कारण भी पेट में भारीपन महसूस हो सकता है. जरूरत से ज्यादा हाई फाइबर युक्त आहार का सेवन करना भी पेट में भारीपन महसूस करा सकता है. कुछ खाद्य पदार्थ, जैसे- बीन्स, प्याज और गोभी का अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट में भारीपन महसूस हो सकता है. वहीं, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स का अधिक सेवन करने से भी पेट में भारीपन की परेशानी हो सकती है. इसलिए इस तरह के खाने की आदत में बदलाव करें.

(और पढ़ें - पेट दर्द के घरेलू उपाय)

  • अपच की परेशानी - अपच की परेशानी से ग्रस्त लोगों को भी पेट में भारीपन महसूस हो सकता है. इस स्थिति में पेट में भारीपन के साथ-साथ पेट में दर्द, जलन महसूस होना, खाने के तुरंत बाद पेट भरा हुआ महसूस करना, पेट से आवाजें आना, डकार या गैस, सूजन व जी मिचलाना इत्यादि शामिल हैं. अपच की परेशानी एसिडिक फूड्स, जैसे- टमाटर या संतरे के जूस के कारण ट्रिगर होती है. इसके अलावा, कुछ अन्य कारणों धूम्रपान, कैफीनशराब व कार्बोनेटेड ड्रिंक्स जैसी चीजों से भी अपच की परेशानी ट्रिगर हो सकती है.

(और पढ़ें - पेट में सूजन के घरेलू उपाय)

  • कब्ज - कब्ज के कारण भी पेट में भारीपन महसूस हो सकता है. यह परेशानी कम मात्रा में पानी पीने, एक्सरसाइज न करना, लो फाइबर युक्त आहार का सेवन करने वालों को अधिक होती है.

(और पढ़ें - पेट फूलने की समस्या के उपाय)

पेट में भारीपन के गंभीर कारण

सामान्य कारणों के साथ-साथ पेट में भारीपन के कुछ गंभीर कारण भी हो सकते हैं. आइए जानते हैं, इस बारे में -

  • इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम - पेट में भारीपन इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम की वजह से भी महसूस हो सकता है. यह एक गंभीर स्थिति है, इसमें मरीज को तुरंत डॉक्टर की सलाह लेने की आवश्यकता होती है. इस स्थिति में पेट में भारीपन के साथ-साथ पेट में सूजन और बेचैनी भी महसूस होती है. इसके साथ ही पेट में ऐंठन के साथ काफी तेज दर्द होना, दस्त, कब्ज और मल त्याग सही से न होना जैसी परेशानी महसूस होती है. यह एक बैक्टीरियल इंफेक्शन है. इसके अलावा, यह परेशानी ट्रॉमा, एंजाइटी और डिप्रेशन के कारण हो सकती है.

(और पढ़ें - पेट दर्द का आयुर्वेदिक इलाज)

  • पेट में अल्सर - हेलिकोबैक्टर पाइलोरी एक बैक्टीरिया है, जो व्यक्ति के पेट की परत को नुकसान पहुंचा सकता है. इसकी वजह से पेट में अल्सर हो सकता है. पेट के अल्सर के कारण भी व्यक्ति को पेट में भारीपन जैसा महसूस होता है. इसके अलावा, इस परेशानी से ग्रस्त मरीज में सूजन, जी मिचलाना, भूख की कमी और वजन घटना जैसे लक्षण भी दिखते हैं.

(और पढ़ें - पेट दर्द के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स)

  • गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज - पेट में भारीपन गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज की वजह से भी महसूस हो सकता है. बार-बार गैस की परेशानी होने पर इसका सही से न इलाज करने की वजह से यह स्थिति उत्पन्न हो सकती है. इस स्थिति से ग्रसित व्यक्ति को पेट में भारीपन के साथ-साथ सांस लेने में परेशानी, मतली, उल्टी व पेट में जलन जैसे लक्षण दिख सकते हैं.

इसके अलावा, कुछ अन्य गंभीर कारण भी शामिल हैं, जैसे -

(और पढ़ें - पेट में गैस का आयुर्वेदिक इलाज)

पेट में भारीपन का इलाज - Heaviness in Stomach Treatment in Hindi

पेट में भारीपन का इलाज इसके कारणों पर निर्भर करता है. अगर व्यक्ति को सामान्य कारणों से पेट में भारीपन महसूस हो रहा है, तो इस स्थिति में डॉक्टर लाइफस्टाइल और खानपान में बदलाव की सलाह दे सकते हैं. वहीं, कुछ दवाइयां भी लेने की सलाह देते हैं. आइए, जानते हैं इसके बारे में -

लाइफस्टाइल में बदलाव

पेट में भारीपन महसूस होने पर डॉक्टर ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन न करने की सलाह देते हैं, जिसमें फैट की मात्रा अधिक हो. इसके अलावा, जिन भोजन को पचाने में परेशानी हो, उसे कम मात्रा में या फिर न खाने की सलाह दे सकते हैं. इसके अलावा डॉक्टर खाने की आदतों को बदलने की सलाह दे सकते हैं, जिसमें धीरे-धीरे खाना और कम मात्रा में भोजन करना शामिल है. नियमित रूप से एक्सरसाइज करना और कैफीन व शराब से दूरी बनाने की सलाह दी जा सकती है.

(और पढ़ें - पेट की गैस के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट)

कुछ दवाइयां

लाइफस्टाइल में बदलाव के साथ-साथ डॉक्टर कुछ दवाइयां लेने का सुझाव भी दे सकते हैं, जो इस प्रकार हैं -

  • एंटासिड दवाएं - टम्स, रोलाइड्स व मायलांटा
  • ओरल सस्पेंशन मेडिटेशन - पेप्टो-बिस्मोल व कैराफेट
  • एंटी-गैस व एंटी-फ्लैटुलेंस प्रोडक्ट्स - फेजाइम, गैस-एक्स, बीनो
  • प्रोटॉन पंप इनहिबिटर्स - लैंसोप्राजोलेओमेप्राजोल

(और पढ़ें - पेट में सूजन का आयुर्वेदिक इलाज)

सारांश – Summary

पेट में भारीपन महसूस होने पर पेट में जलन, दर्द व ऐंठन जैसे लक्षण दिख सकते हैं. वहीं, इस समस्या के गंभीर और सामान्य कारण हो सकते हैं, जिसमें जल्दी-जल्दी खाना, ज्यादा खाना व पेट में अल्सर होना शामिल है. पेट में भारीपन का इलाज इसके कारणों के आधार पर किया जा सकता है. इसके साथ-साथ डॉक्टर लाइफस्टाइल में बदलाव की सलाह देते हैं. ध्यान रखें कि पेट में भारीपन के लक्षण महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह लें, ताकि गंभीर स्थितियों में समय पर इसका इलाज किया जा सके.

(और पढ़ें - पेट में गैस का होम्योपैथिक इलाज)



पेट में भारीपन के डॉक्टर

Dr. Raghu D K Dr. Raghu D K गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
14 वर्षों का अनुभव
Dr. Porselvi Rajin Dr. Porselvi Rajin गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
16 वर्षों का अनुभव
Dr Devaraja R Dr Devaraja R गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
7 वर्षों का अनुभव
Dr. Vishal Garg Dr. Vishal Garg गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
14 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ