स्तंभन दोष यानी इरेक्टाइल डिसफंक्शन पुरुषों में होने वाली एक सामान्य यौन समस्या है. इसे ईडी के रूप में भी जाना जाता है. जब पुरुषों को इरेक्शन प्राप्त करने या लंबे समय तक बनाए रखने में मुश्किल होती है, तो इस अवस्था को इरेक्टाइल डिसफंक्शन कहा जाता है. ईडी के चलते पुरुषों को बांझपन की समस्या भी हो सकती है. वैसे तो इरेक्टाइल डिसफंक्शन के मुख्य कारण तनाव, मोटापा, खराब लाइफस्टाइल व धूम्रपान है, लेकिन शरीर में कुछ जरूरी विटामिन व मिनरल की कमी भी इसका कारण बन सकती है. जब शरीर में पोषक तत्वों की कमी से ईडी होता है, तो ऐसे में डॉक्टर विटामिन सप्लीमेंट लेने की सलाह दे सकते हैं.

आप यहां दिए लिंक पर क्लिक करके इरेक्टाइल डिसफंक्शन का आयुर्वेदिक इलाज जान सकते हैं.

आज इस लेख में आप जानेंगे कि शरीर में किस चीज की कमी होने से इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या होती है -

(और पढ़ें - स्तंभन दोष के लिए आयुर्वेदिक तेल)

  1. इरेक्टाइल डिसफंक्शन किसकी कमी से होता है?
  2. सारांश
शरीर में किसकी कमी से स्तंभन दोष होता है? के डॉक्टर

इरेक्टाइल डिसफंक्शन वैसे तो एक गंभीर बीमारी नहीं है, लेकिन यह पुरुषों की सेक्स लाइफ को पूरी तरह से प्रभावित कर सकती है. यह पुरुषों में इनफर्टिलिटी का कारण बन सकती है. हालांकि, इस संबंध में कोई ठोस वैज्ञानिक प्रमाण हैं, जो ये साबित कर सकें कि विटामिन सप्लीमेंट्स लेने से ईडी को ठीक किया जा सकता है, लेकिन इतना जरूर है कि विटामिन की कमी और ईडी होने के बीच लिंक जरूर है. आइए, अब उन विटामिन के बारे में जानते हैं, जिनकी कमी से इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या हो सकती है -

विटामिन-डी

जब शरीर में विटामिन-डी की कमी होती है, तो हड्डियों और जोड़ों में दर्द होना आम होता है. इसके अलावा, विटामिन-डी की कमी होने पर पुरुषों को इरेक्टाइल डिसफंक्शन का भी सामना करना पड़ सकता है. अध्ययन में पता चला है कि जिन पुरुषों को इरेक्शन बनाने में मुश्किल होती है, उनमें विटामिन-डी की कमी हो सकती है. ऐसे में यौन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए विटामिन-डी युक्त खाद्य पदार्थ या सप्लीमेंट्स लिए जा सकते हैं. विटामिन-डी ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है. साथ ही नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को भी उत्तेजित करता है. इससे ईडी को रोकने में मदद मिल सकती है.

आपको बता दें कि हाइपोगोनाडिज्म वाले लोगों में भी विटामिन-डी का स्तर कम होता है. हाइपोगोनाडिज्म तब होता है, जब शरीर पर्याप्त सेक्स हार्मोन का उत्पादन नहीं करता है. इससे यौन इच्छा कम हो सकती है और इरेक्शन पाने में कठिनाई हो सकती है.

(और पढ़ें - स्तंभन दोष में क्या खाएं)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को सेक्स समस्याओं के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Long Time Capsule
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

विटामिन-बी9

विटामिन-बी9 और ईडी के बीच भी गहरा संबंध होता है. 2014 के एक रिसर्च में पता चला कि जिन पुरुषों में विटामिन-बी9 यानी फोलेट की कमी थी, उन्हें इरेक्शन बनाए रखने में मुश्किल हुई. वहीं, विटामिन-बी9 युक्त फूड्स और सप्लीमेंट की मदद से इरेक्टाइल डिसंक्शन का इलाज भी संभव हो सकता है. इसलिए, कहा जा सकता है कि शरीर में विटामिन-बी9 की कमी भी ईडी का कारण बन सकती है.

(और पढ़ें - इरेक्टाइल डिसफंक्शन की आयुर्वेदिक दवा)

विटामिन-बी3

विटामिन-बी3 को नियासिन के रूप में भी जाना जाता है. शरीर में नियासिन की कमी पुरुषों में होने वाले ईडी का एक मुख्य कारण हो सकता है. एक अध्ययन में साबित हुआ कि नियामिन सप्लीमेंट से इरेक्शन बनाने में मदद मिलती है. विटामिन-बी3 की पूर्ति के लिए आप अपनी डाइट में चिकनटूनामूंगफलीमसूर की दालब्राउन चावल और सरसों के बीज शामिल सकते हैं. साथ ही इसके सप्लीमेंट भी लिए जा सकते हैं.

(और पढ़ें - नपुंसकता के घरेलू उपाय)

विटामिन-सी

विटामिन-सी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी को मजबूत बनाता है. साथ ही विटामिन-सी को पुरुष यौन स्वास्थ्य के लिए भी जरूर माना गया है. पुरुषों के शरीर में विटामिन-सी की कमी होने पर ईडी की समस्या पैदा हो सकती है. ऐसे में पुरुष अपनी डाइट में विटामिन-सी को शामिल सकते हैं.

विटामिन-सी शरीर में ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है. साथ ही टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने में भी मदद करता है. ये दोनों ही यौन क्रिया के लिए जरूरी होते हैं.

(और पढ़ें - कम उम्र में स्तंभन दोष का कारण)

एल कार्निटाइन

एल कार्निटाइन एक प्रकार का अमिनो एसिड है. यह शरीर में फैट को तोड़कर ऊर्जा में बदलने का काम करता है. साथ ही शुक्राणुओं के उत्पादन व हृदय स्वास्थ्य के लिए भी जरूरी होता है. जब शरीर में एल कार्निटाइन का स्तर कम होता है, तो पुरुषों को इरेक्शन बनाने में कठिनाई आ सकती है. अगर किसी के शरीर में इसकी कमी है, तो ऐसे में एल कार्निटाइन सप्लीमेंट का सेवन करना शुरू कर सकते हैं. 

(और पढ़ें - इरेक्टाइल डिसफंक्शन की होम्योपैथिक दवा)

एल आर्जिनिन

एल आर्जिनिन भी प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला अमीनो एसिड है. यह नाइट्रिक ऑक्साइड उत्पादन को बढ़ाता है. इससे पुरुषों को इरेक्शन प्राप्त करने में मदद मिलती है, लेकिन जब शरीर में एल आर्जिनिन की कमी होती है, तो इसका असर पुरुष यौन स्वास्थ्य पर गंभीर रूप से पड़ सकता है. इसकी कमी होने पर पुरुषों को इरेक्टाइल डिसफंक्शन का सामना करना पड़ सकता है. इस स्थिति में इरेक्शन बनाए रखने के लिए एल आर्जिनिन सप्लीमेंट लिया जा सकता है.

(और पढ़ें - नपुंसकता के लिए योग)

विटामिन-डी व विटामिन-बी9 समेत कई ऐसे पोषक तत्व हैं, जो पुरुषों में होने वाले इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण बन सकते हैं. ऐसे विटामिन संपूर्ण स्वास्थ्य को बेहतर सकते हैं और ईडी का कारण बनने वाली स्थितियों में सुधार करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन ईडी का इलाज नहीं कर सकते हैं. ऐसे में अगर किसी को भी इरेक्शन बनाने में मुश्किल होती है, तो उसे डॉक्टर की सलाह पर जरूरी टेस्ट करवाने चाहिए. फिर उसी के आधार पर विटामिन सप्लीमेंट लेने चाहिए.

(और पढ़ें - क्या इरेक्टाइल डिसफंक्शन का इलाज संभव है)

Dr. Chetan Gupta

Dr. Chetan Gupta

सेक्सोलोजी

Dr. Ashok kesarwani

Dr. Ashok kesarwani

सेक्सोलोजी
12 वर्षों का अनुभव

Dr. Hemant Sharma

Dr. Hemant Sharma

सेक्सोलोजी
11 वर्षों का अनुभव

Dr. Zeeshan Khan

Dr. Zeeshan Khan

सेक्सोलोजी
9 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें