प्रोबायोटिक्स के बारे में अमूमन यही सुना गया है कि यह बड़ों की सेहत के लिए अच्छा है, लेकिन यह बच्चों के लिए कितना अच्छा है, इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है. दरअसल प्रोबायोटिक्स अच्छे बैक्टीरिया होते हैं, जो भोजन पचाने में मदद करने के साथ ही बीमार करने वाले कीटाणु पर भी अटैक करते हैं. इस लिहाज से ये बच्चों के लिए लाभकारी हो सकते हैं. फिर कुछ मामलों में बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स नुकसानदायक भी हैं, जैसे कुछ खास दवाइयां लेते समय प्रोबायोटिक्स पाचन संबंधी समस्या पैदा कर सकता है.

आज इस लेख में आप बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स के फायदे व नुकसान के बारे में जानेंगे -

(और पढ़ें - बच्चों के लिए होममेड सेरेलक के फायदे)

  1. बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स के फायदे
  2. बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स के नुकसान
  3. सारांश
बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स के फायदे व नुकसान के डॉक्टर

प्रोबायोटिक्स अच्छे बैक्टीरिया होते हैं, जो शरीर में प्रवेश करने वाले खराब बैक्टीरिया से लड़ते हैं. बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स डायरिया, कॉलिक व इंफेक्शन जैसी समस्या को दूर करने में फायदेमंद हो सकते हैं. आइए, बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स के फायदे के बारे में विस्तार से जानते हैं -

डायरिया में फायदेमंद

शोध बताते हैं कि प्रोबायोटिक्स के सेवन से इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज के इलाज में सहायता मिलती है. इसके सेवन से डायरिया भी जल्दी ठीक हो सकता है.

(और पढ़ें - ​बच्‍चों के लिए दूध के फायदे)

Probiotics Capsules
₹599  ₹770  22% छूट
खरीदें

कोलिक और कब्जको दूर करने में सहायक

बाल रोग के क्षेत्र में हुए शोध के अनुसार, शिशुओं को शुरुआत के तीन महीने प्रोबायोटिक्स देने से उन्हें काेलिककब्ज और एसिड रिफ्लक्स की समस्या नहीं रहती है.

(और पढ़ें - बच्चों के लिए आयोडीन के फायदे)

सांस संबंधी रोग कम करे

एक अन्य शोध यह कहता है कि अगर छोटे बच्चों को प्रोबायोटिक्स दिया गया, तो उन्हें रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इंफेक्शन होने का जोखिम कम रहता है. यदि यह हो भी गया, तो जल्दी ठीक हो जाता है.

(और पढ़ें - बच्चे को दही खिलाने के फायदे)

सर्दी-जुकाम से राहत दे

प्रोबायोटिक्स के सेवन से बच्चों को अमूमन होने वाला सर्दी-जुकाम होने की आशंका कम हो जाती है. वहीं, अगर हो भी जाए, तो ये जल्दी ठीक हो सकता है.

(और पढ़ें - बच्चों के बुखार की एलोपैथिक दवाएं)

Nasal Congestion
₹224  ₹249  10% छूट
खरीदें

इंफेक्शन से बचाव

प्रोबायोटिक्स का सेवन खराब बैक्टीरिया को संतुलित करता है. इसकी वजह से इंफेक्शन होने की आशंका कम हो सकती है.

(और पढ़ें - बच्चों के लिए संतुलित आहार)

बच्चों के लिए प्रोबायोटिक्स के फायदे तो हैं ही, लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हैं -

  • 1 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को प्रोबायोटिक्स देने से पहले बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह जरूर लेनी चाहिए.
  • जो बच्चे ज्यादा बीमार रहते हैं या जिनका इम्यून सिस्टम सही नहीं रहता है, उन्हें भी बाल रोग विशेषज्ञ से पूछने के बाद ही प्रोबायोटिक्स देना चाहिए.
  • प्रोबायोटिक्स के अधिक सेवन से बच्चों को गैस, कब्ज व डायरिया होने की आशंका भी रहती है.

(और पढ़ें - क्या बच्चों का चाय पीना सुरक्षित है)

प्रोबायोटिक्स के सेवन से बच्चों को डायरिया होने की आशंका कम रहती है, साथ ही यह इंफेक्शन से भी दूरी बनाए रखने में मददगार है. हालांकि, बच्चों को प्रोबायोटिक्स देने से पहले बाल रोग विशेषज्ञ से जरूर पूछ लेना सही रहता है, क्योंकि इसके सेवन से बच्चों को गैस व कब्ज होने जैसे नुकसान भी हो सकते हैं.

(और पढ़ें - बच्चों में डायबिटीज का इलाज)

Dr. Mayur Kumar Goyal

Dr. Mayur Kumar Goyal

पीडियाट्रिक
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Gazi Khan

Dr. Gazi Khan

पीडियाट्रिक
4 वर्षों का अनुभव

Dr. Himanshu Bhadani

Dr. Himanshu Bhadani

पीडियाट्रिक
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Pavan Reddy

Dr. Pavan Reddy

पीडियाट्रिक
9 वर्षों का अनुभव

सम्बंधित लेख

बच्चों में कैल्शियम की कमी क...

Dr. Pradeep Jain
MD,MBBS,MD - Pediatrics
25 वर्षों का अनुभव

बच्चों में हर्निया के लक्षण,...

Dr. Pradeep Jain
MD,MBBS,MD - Pediatrics
25 वर्षों का अनुभव

नवजात शिशु के बाल झड़ना

Dr. Pradeep Jain
MD,MBBS,MD - Pediatrics
25 वर्षों का अनुभव
ऐप पर पढ़ें