• हिं

माइंड यू, मानसिक स्वास्थ्य पर एक पॉडकास्ट

माइंड यू" मानसिक स्वास्थ्य के बारे में अपनी तरह का पहला विस्तृत विश्लेषण है और वह भी एक ऐसी भाषा में जिसे भारत में रहने वाले लोगों के साथ ही विदेशों में रहने वाले भारतीय भी आसानी से समझ सकते हैं और वह है - हिंग्लिश। इसमें कई तरह के नए टॉपिक्स को शामिल किया गया है। क्लीनिकल विकार जैसे - डिप्रेशन से लेकर पैरेंटिंग यानी बच्चों के पालन पोषण के बारे में गहन जानकारी और युवाओं से संबंधित विषय जैसे - सोशल मीडिया से लेकर रिलेशनशिप और सेक्शुऐलिटी तक, इस पॉडकास्ट में सभी के लिए कुछ न कुछ जरूर है। माइंड यू के हर एपिसोड में एक्सपर्ट चर्चा करेंगे, जिसमें वे दिए गए विषय पर कई प्रश्नों के जवाब देंगे। इस पूरी सीरीज के दौरान एक्सपर्ट हमारे श्रोताओं के उनके दिन-प्रतिदिन के कार्यों और मेंटल हेल्थ के बीच कनेक्शन को समझने में मदद और मार्गदर्शन करेंगे।

एपिसोड 11: 2020 की पॉजिटिव बातें

माइंड यू के इस स्पेशल एपिसोड में सुनें विशेषज्ञ डॉ समीर पारिख, कामना छिब्बर, मिमांसा सिंह तंवर, दिव्या जैन और निष्ठा नरूला से कि 2020 - COVID के इस वर्ष - में क्या सकारात्मक बातें सामने आई हैं।


एपिसोड 10: परीक्षा और पढ़ाई

अपने फोकस को बेहतर कैसे करें, जब आप पढ़ाई से ब्रेक लेते हैं तो आपको क्या करना चाहिए और क्या परीक्षा से पहले आपको परीक्षा में आने वाले संभावित सवालों के बारे में अपने साथियों से चर्चा करनी चाहिए- इन और इस तरह के कई अन्य प्रश्नों का जवाब देंगे साइकायट्रिस्ट डॉ समीर पारिख और साइकोलॉजिस्ट दिव्या जैन, माइंड यू के इस एपिसोड में।


एपिसोड 9: शोक और निवारण

माइंड यू की इस कड़ी में मनोवैज्ञानिक कामना छिब्बर और साइको-ऑन्कोलॉजिस्ट केशव शर्मा बता रही हैं कि शोक क्या है और इससे निकलने के लिए कुछ कारगर उपाय। यदि आपने भी कभी नौकरी, दोस्त, या कोई बहुत ही प्रिय व्यक्ति खोया है, और यदि आज भी आप उस दर्द से जूझ रहे हैं, तो ये एपिसोड आपके लिए है।


एपिसोड 8: आत्महत्या की रोकथाम

इस हफ्ते हमसे जुड़ें एक बहुत ही ज़रूरी विषय पर चर्चा के लिए - आत्महत्या , जो कि दुनिया भर में मौतों के 10 सबसे आम कारणों में से एक है। मनोचिकित्सक डॉ समीर पारिख, मनोवैज्ञानिक दिव्या जैन और थेरे


एपिसोड 7: अकेलापन

क्या मैं भीड़ में अकेला महसूस कर सकता हूं? क्या अकेलापन वास्तव में मेरे स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है? क्या अकेलापन एक आधुनिक बीमारी बन गया है? माइंड यू के इस एपिसोड में, मनोचिकित्सक डॉ समीर पारिख और क्लीनिकल मनोवैज्ञानिक कामना छिब्बर हमें इन और अकेलेपन से जुड़े कई सवालों के जवाब दे रहे हैं। तो, ज़रूर सुनें!


एपिसोड 6: ब्रेकप

माइंड यू का यह एपिसोड बहुत ही खास है - इसमें जाने-माने मनोचिकित्सक डॉ समीर पारिख मेज़बान का किरदार अदा करेंगे और बात करेंगे दो काउन्सलिंग - मनोवैज्ञानिक निष्ठा नरूला और दिव्या जैन - से, दिल के मामलों के बारे में। और साथ ही बात करेंगे कि एक रिश्ते के समाप्त होने पर कैसे खुद का ख्याल रखें।


एपिसोड 5: लव और सेक्स आजकल

मशहूर मनोचिकित्सक डॉ समीर पारिख, एक्सप्रेसिव आर्ट-बेस्ड थेरेपिस्ट अदिति कॉल और मनोवैज्ञानिक सलाहकार निष्ठा नरूला माइंड यू के इस हफ्ते के एपिसोड में हमें बताएंगे कि एक अच्छे रिश्ते की आधारशिला क्या होती है, प्यार की बायोकेमिस्ट्री क्या होती है यानी जब कोई इंसान प्यार में होता है तो उसके शरीर में क्या-क्या बदलाव होते हैं और इन सबके बीच सेक्स की क्या भूमिका होती है। इस हफ्ते का पॉडकास्ट सुनने के लिए हमसे जुड़े रहें...


एपिसोड 4: बॉडी इमेज

माइंड यू पर इस हफ्ते सुनें कि क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट कामना छिब्बर और काउंसलिंग साइकोलॉजिस्ट निष्ठा नरूला का बॉडी इमेज के बारे में क्या कहना है। साथ ही जानें कि हम अपने शरीर को कैसे देखते हैं, इसमें सोशल मीडिया की भूमिका क्या है। इसके आलावा, वह आपको अपने शरीर और खुद के बारे में और अधिक सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित करने के लिए टिप्स भी देंगी। और बताएंगी कि क्यों बच्चों को "क्यूट" आदि बोलने से नुकसान हो सकता है।


एपिसोड 3: अपशब्द

माइंड यू की इस किश्त में, स्पोर्ट्स साइकोलोजिस्ट दिव्या जैन, आर्ट्स-बेस्ड थेरेपिस्ट अदिति कौल और काउंसलिंग साइकोलोजिस्ट निष्ठा नरूला बता रही हैं कि जब हम अपनी रोज़मर्रा की बातचीत में “मेन्टल”, “पागल”, “सरका हुआ” जैसे शब्दों का उपयोग करते हैं, तो हम ऐसा माहौल बना देते हैं जिसमें मानसिक स्वास्थ्य से जुडी परेशानियों से जूझ रहे व्यक्ति के लिए मदद माँगना मुश्किल हो जाता है।


एपिसोड 2: आत्मविश्वास

माइंड यू के पहले एपिसोड में डॉ समीर पारिख और कामना छिब्बर डिप्रेशन के लक्षणों को पहचानने और इसके इलाज के सभी पहलुओं के बारे में बता रहे हैं। उन्होंने इस एपिसोड में अवसाद व अन्य मानसिक विकारों और उनके उपचार से जुड़े कई मिथकों का भी भंडाफोड़ किया है।


cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ