myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

अरैक्नॉयड सिस्ट तरल पदार्थ से भरी गांठ हैं, जो अरैक्नॉयड झिल्ली पर होती है। यह झिल्ली मस्तिष्क (इंट्राक्रानियल) और रीढ़ की हड्डी (रीढ़) को कवर करती है। यदि किसी व्यक्ति के सिर में अरैक्नॉयड सिस्ट की समस्या होती है, तो यह मस्तिष्क और खोपड़ी के बीच या मस्तिष्क के चारों ओर फैल सकती है।

आमतौर पर अरैक्नॉयड सिस्ट सेरेब्रोस्पाइनल फ्लूड (मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में पाया जाने वाला स्पष्ट व रंगहीन तरल पदार्थ) से भरा होता है। अरैक्नॉयड सिस्ट की दीवारें इस तरल पदार्थ को व्यक्ति के सीएसएफ सिस्टम में जाने नहीं देती हैं, जिससे यह अंदर जमा हो जाता है।

बच्चों में, अरैक्नॉयड सिस्ट जन्मजात या जन्म के समय मौजूद हो सकता है, इन्हें प्राइमरी अरैक्नॉयड सिस्ट कहा जाता है। यदि यह समस्या बाद में विकसित होती है तो इन्हें सेकंडरी अरैक्नॉयड सिस्ट कहा जाता है। बता दें कि प्राइमरी अरैक्नॉयड सिस्ट सेकंडरी अरैक्नॉयड सिस्ट की तुलना में अधिक सामान्य है।

और पढ़ें - (चर्बी की गांठ के कारण)

  1. अरैक्नॉयड सिस्ट के लक्षण - Symptoms of Arachnoid Cysts in Hindi
  2. अरैक्नॉयड सिस्ट का कारण - Arachnoid Cysts Causes in Hindi
  3. अरैक्नॉयड सिस्ट का निदान - Diagnosis of Arachnoid Cysts in Hindi
  4. अरैक्नॉयड सिस्ट का उपचार - Arachnoid Cysts Treatment in Hindi
  5. अरैक्नॉयड सिस्ट (अरैक्नॉयड झिल्ली में गांठ) के डॉक्टर

अरैक्नॉयड सिस्ट के लक्षण - Symptoms of Arachnoid Cysts in Hindi

आमतौर पर इस बीमारी के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। नतीजतन, इस बीमारी से ग्रस्त ज्यादातर लोगों को तब तक अरैक्नॉयड सिस्ट के बारे में पता नहीं चलता है, जब तक कि वे किसी अन्य चिकित्सकीय स्थिति की वजह से चेकअप नहीं कराते हैं।

कुछ मामलों में अरैक्नॉयड सिस्ट के लक्षण पैदा ही नहीं होते हैं। कुछ मामलों में लक्षण सिस्ट के स्थान और आकार पर निर्भर करते हैं। उदाहरण के लिए, यदि कोई व्यक्ति अरैक्नॉयड सिस्ट से ग्रसित है तो मस्तिष्क या रीढ़ की हड्डी के नसों या संवेदनशील हिस्सों पर दबाव पड़ता है। यदि यह मस्तिष्क में है, तो सिस्ट की वहज से निम्नलिखित लक्षण दिखाई दे सकते हैं :

यदि यह रीढ़ की हड्डी में स्थित है, तो यह निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं :

यदि आप इन लक्षणों को अनुभव करते हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

(और पढ़ें - दिमाग में पानी भर जाने का इलाज)

अरैक्नॉयड सिस्ट का कारण - Arachnoid Cysts Causes in Hindi

जब गर्भाशय में भ्रूण विकसित हो रहा होता है तो ऐसे में मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में असामान्य वृद्धि होने से प्राइमरी या जन्मजात अरैक्नॉयड हो सकता है। डॉक्टरों को इस असामान्य वृद्धि का सटीक कारण तो ज्ञात नहीं है, लेकिन उनका मानना है कि यह आनुवंशिक हो सकता है।

सेकंडरी अरैक्नॉयड सिस्ट जो कि जन्मजात नहीं होता है, वह कई चीजों के कारण हो सकता है। इन कारणों में शामिल है :

(और पढ़ें - मस्तिष्क में चोट लगने पर क्या करें)

अरैक्नॉयड सिस्ट का निदान - Diagnosis of Arachnoid Cysts in Hindi

यदि आपके डॉक्टर को इस बात का संदेह है कि आपको अरैक्नॉयड सिस्ट की समस्या है तो हो सकता है कि वे इमेजिंग टेस्ट कराने की सलाह दे सकते हैं। उदाहरण के लिए, वे मस्तिष्क या रीढ़ को देखने के लिए सीटी स्कैन और एमआरआई स्कैन का उपयोग कर सकते हैं।

अरैक्नॉयड सिस्ट का उपचार - Arachnoid Cysts Treatment in Hindi

बीमारी का इलाज, इस बात पर निर्भर करता है कि सिस्ट किस स्थान पर है और उसका आकार क्या है। यदि सिस्ट छोटा है, आस-पास के ऊतकों को नुकसान नहीं पहुंचा रहा और लक्षणों का कारण ज्ञात नहीं है तो हो सकता है कि कुछ डॉक्टर ऐसी स्थिति में जल्द इलाज शुरू न करें।

पहले के समय में, डॉक्टर सिस्ट में मौजूद तरल पदार्थ को निकालने के लिए शंट यानी छेद करते थे। लेकिन वर्तमान में माइक्रो न्यूरोसर्जिकल तकनीकों और एंडोस्कोपिक उपकरणों के साथ सर्जरी की जा सकती है।

Dr. Virender K Sheorain

Dr. Virender K Sheorain

न्यूरोलॉजी

Dr. Vipul Rastogi

Dr. Vipul Rastogi

न्यूरोलॉजी

Dr. Sushil Razdan

Dr. Sushil Razdan

न्यूरोलॉजी

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
कोरोना मामले - भारतx

कोरोना मामले - भारत

CoronaVirus
192292 भारत
3783आंध्र प्रदेश
22अरुणाचल प्रदेश
1390असम
33अंडमान निकोबार
3926बिहार
294चंडीगढ़
547छत्तीसगढ़
3दादर नगर हवेली
20834दिल्ली
71गोवा
17200गुजरात
2356हरियाणा
340हिमाचल प्रदेश
2601जम्मू-कश्मीर
659झारखंड
3408कर्नाटक
1326केरल
77लद्दाख
8283मध्य प्रदेश
70013महाराष्ट्र
83मणिपुर
27मेघालय
1मिजोरम
43नगालैंड
2104ओडिशा
74पुदुचेरी
2301पंजाब
8980राजस्थान
1सिक्किम
23495तमिलनाडु
2792तेलंगाना
420त्रिपुरा
958उत्तराखंड
8075उत्तर प्रदेश
5772पश्चिम बंगाल

मैप देखें